प्रधानमंत्री के कहने के बाद भी भाजपा से बागी होकर विधानसभा चुनाव लड़ने वाले हिमाचल प्रदेश के कृपाल परमार फतेहपुर सीट से पीछे चल रहे हैं. यहां से भाजपा के घोषित उम्मीदवार यहां पीछे चल रहे हैं. कांग्रेस ने यहाँ से मज़बूत बढ़त बना ली है. कांग्रेस की बढ़त यहाँ 7354 वोटों की हो गेई है. कृपाल परमार बहुत पीछे चल रहे हैं और ऐसा नहीं लगता कि वो कोई प्रभाव डाल सके हैं, उन्हें महज़ 4% वोट ही मिलते दिख रहे हैं.

कृपाल परमार ने दावा किया था कि पीएम मोदी ने उनसे फोन करके कहा चुनाव नहीं लड़ने के लिए कहा था. उन्होंने बताया था पीएम मोदी ने उनसे कहा, “मेरी बात सुन लें… मेरा तुमपर हक है… इस फोन की कीमत कम मत आंकना”. परमार ने अपनी बात रखते हुए कहा कि कम नहीं है, यह मेरे लिए भगवान का आदेश है.. अगर फोन दो दिन पहले आता तो कुछ हो जाता.. इसके बाद मोदी जी ने शुक्रिया कहकर फोन काट दिया.

भाजपा के पूर्व सांसद परमार उन बागियों में से हैं, जिन्होंने पहाड़ी राज्य में भाजपा को जीत से पीछे खींच लिया है. हालांकि, हिमाचल प्रदेश ने अब तक पारंपरिक रूप से किसी भी पार्टी को दूसरे कार्यकाल से वंचित रखा है. 63 वर्षीय निर्दलीय उम्मीदवार निर्वाचन क्षेत्र में नंबर 3 पर संघर्ष कर रहे हैं. भाजपा के राकेश पठानिया इस सीट पर कांग्रेस उम्मीदवार भवानी सिंह पठानिया के साथ करीबी मुकाबले में आगे चल रहे हैं.

कृपाल परमार पिछले साल से ही भाजपा से नाराज हैं. फतेहपुर उपचुनाव में टिकट नहीं मिलना नाराजगी की मुख्य वजह थी. कृपाल परमार ने बीजेपी के अध्यक्ष जेपी नड्डा पर भी कई आरोप लगाए. उनहोंने कहा मामला नड्डा के पास जाता था. एक साथ पढ़ें हैं. एक साथ कमरों में रहे हैं. साल 2017 से पता नहीं क्या हुआ… मेरे दोस्त दुश्मन हो गए. मेरा मजाक बनाया जाने लगा. जिनसे मैं हारा था उनका निधन हो गया था. सीट पर उपचुनाव हुआ, जो मेरे खिलाफ लड़ा था उसे टिकट दे दिया गया. नड्डा जी ने कहा चुनाव नहीं लड़ना है. मैंने नहीं लड़ा…. मैंने जब कोई विरोध नहीं किया. लेकिन जैसे ही चुनाव खत्म हुआ. तो मुझे फोन आया की पदाधिकारियों की बैठक में आप नहीं आएंगे.. ये ऊपर से आदेश है.

कृपाल परमार ने एक चैनल से कहा था कि जब पीएम मोदी राज्य के प्रभारी थे तो मैं मंत्री था. मेरे उनके साथ पारिवारिक रिश्ता हैं. वो मेरे लिए भगवान के समान हैं. मैं चुनाव लड़ रहा हूं. मैंने मोदी जी को कहा कि आपका फोन पहले आता है तो मैं नाम वापस ले लेता, लेकिन पीएम ने बताया कि उन्हें भी आज ही बताया गया है. हिमाचल प्रदेश की 68 सीटों पर 30 बागी चुनाव लड़ रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *