म’स्जि’द में अ’ज़ा’न को लेकर अब योगी सरकार ने लिया यू-टर्न, मुस’ल’मानों के लिए अब..

April 27, 2020 by No Comments

25 अप्रैल से दुनियाभर में र’मजा’न का महीना शुरू हो गया है। दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी ने ये एलान किया है कि रमज़ान के दौरान मस्जिद में अज़ान देने पर कोई पाबन्दी नहीं है। जबकि इसके बिलकुल वि’परी’त उत्तर प्रदेश सरकार ने एक बड़ा एलान किया है। दरअसल, ला’उ’डस्पी’कर पर अ’जा’न करना र’मजा’न के पवित्र महीने में व्र’त की शुरुआत और अंत का प्रतीक माना जाता है।

खबर के मुताबिक, लॉकडाउन के चलते उत्तर प्रदेश के गाजीपुर और फर्रुखाबाद जिले में ला’उड’स्पीकर से अ’जान करने पर रोक लगा दी गई है। इसके लिए बकायदा म’स्जि’दों पर नो’टिस भी च’स्पा दिए गए है। बताया जा रहा है कि फर्रुखाबाद जिला प्रशासन ने रो’जे की इफ्तार और सेहरी की समय की सूचना देने के लिए डु’गडु’गी और प’टा’खे च’ला’ने के लिए कहा है।

People offer evening prayer at a mosque ahead of the Muslim month of Ramadan, in Karachi, Pakistan, Sunday, June 5, 2016. Muslims across the world will be observing the holy fasting month of Ramadan, when they refrain from eating, drinking and smoking from dawn to dusk. (AP Photo/Shakil Adil)

इस मामले में नगर मजिस्ट्रेट अशोक कुमार ने मीडिया को जानकारी देते हुए कहा है कि म’स्जि’दों में किसी तरह के लाउडस्पीकर से अ’जा’न, न’मा’ज या फिर त’रा’वी पर रो’क लगाई गई है। यह आदेश देर रात आया है हर म’स्जि’द में नो’टि’स लगा दिए गए है। वहीं, गाजीपुर के जामिया थाना क्षेत्र में एक म’स्जि’द के प्रभारी जाहिद खान का कहना है कि कुछ पुलि’सक’र्मी ने शनिवार को करीब 3:45 बजे म’स्जि’द में आए थे और उन्होंने कहा कि जिला अधिकारियों का आदेश है कि म’स्जि’द में ला’उडस्पी’कर के जरिए किसी तरह की घो’षणा या आ’जा’न नहीं की जाएगा।

जाहिद खान ने कहा कि जब उन्होंने उनसे लिखित आदेश देने को कहा तो पु’लिस’क’र्मियों का कहना था कि डीएम द्वारा मौखिक तौर पर आदेश दिया गया है। जिसके बाद हमने आज लाउ’डस्पीक’र पर कोई घोषणा नहीं की है।

इस पूरे मामले में अ’ल्पसं’ख्य’क क’ल्याण राज्य मंत्री, मोहसिन रज़ा ने कहा कि उन्हें इस बारे में सूचित किया गया था कि गाजीपुर में ऐसा कोई आ’दे’श जारी नहीं किया गया है। उन्होंने कहा, मैंने गाजीपुर के डीएम से बात की है और उन्होंने मुझसे कहा है कि ऐसा कोई आदेश जारी नहीं किया गया है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *