वसुंधरा राजे के इस कदम से भाजपा में हड़कंप, पार्टी से अलग हो…

January 10, 2021 by No Comments

राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष द्वारा बुलाई गई एक बैठक में आमंत्रण नहीं भेजा गया था। जबकि राजस्थान के कई भाजपा नेता इस बैठक में शामिल होने के लिए दिल्ली पहुंचे थे। माना जा रहा है कि भाजपा अब वसुंधरा राजे को राजस्थान की राजनीति के लिए काबिल नहीं मान रही है। राजस्थान में अब कांग्रेस के बाद भाजपा में भी तकरार बढ़ती जा रही है।

बताया जा रहा है कि पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को भाजपा द्वारा इस तरह से दरकिनार किए जाने से उनके समर्थकों में नाराजगी है। अब वसुंधरा राजे के समर्थन समर्थकों ने राजस्थान में भाजपा से अलग अपना नया राजनीतिक मंच बना लिया है, जिसका नाम दिया गया है वसुंधरा राजे समर्थक राजस्थान मंच।

इसके साथ ही टीम वसुंधरा नाम से सोशल मीडिया में भी इसी मंच का एक अलग संगठन बन चुका है। वसुंधरा राजे समर्थकों ने हर ज़िले में अपना जिलाध्यक्ष बनाना शुरू कर दिया है। इसके अलावा युवा संगठन और महिला संगठन भी तैयार किए जा रहे हैं। भाजपा में यह पहली बार हो रहा है कि पार्टी के संगठन से अलग होकर किसी नेता के समर्थन में अलग संगठन तैयार किया जा रहा है।

इस मामले में वसुंधरा समर्थक मंच के प्रदेश अध्यक्ष विजय भारद्वाज ने मीडिया से बातचीत के दौरान बताया है कि मैं 2003 से वसुंधरा राजे सिंधिया की वजह से जनता दल ने छोड़कर भाजपा में आया था। तब से ही भाजपा की राज्य कार्यकारिणी का सदस्य रहा अब हम लोग भाजपा द्वारा दरकिनार किए जाने के बाद वसुंधरा राजे को अपनी तरफ से मजबूत करेंगे।

वह एक बेहद लोकप्रिय नेता हैं और जब वह मजबूत होगी तो भाजपा भी खुद मजबूत हो जाएगी। इसलिए हम लोगों ने तय किया है कि वसुंधरा राजे के समर्थन में पूरे राजस्थान में जन समर्थन तैयार किया जाए।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *