शादी में नाच गाना देखकर उलेमा हुए नाराज़…बोले अब निकाह नही,फिर आगे ऐसा हुआ

March 24, 2021 by No Comments

निकाह के दौरान डीजे बजा तो मौलवी साहब निकाह नहीं कराएंगे. इस फैसले को देवबंदी उलेमाओं ने बिल्कुल सही ठहराया है. दरअसल, कैराना में एक निकाह के दौरान बज रहे डीजे से मौलवी साहब इतना नाराज हो गए कि उन्होंने निकाह पढ़ाने से इनकार कर दिया था. बाद में पंचायत हुई जिसमें दोनों पक्षों ने माफी मांगी तब देर रात किसी और मौलवी ने निकाह पढ़ाया गया.

दरअसल, कैराना में दिल्ली से बारात आई हुई थी और बारातियों के मनोरंजन के लिए का इंतजाम भी किया गया था.डीजे के गानों पर युवा नाच रहे थे.इस दौरान दोनों दूल्हे भी नाचने लगे.जब निकाह कराने के लिए मौलवी के पास गए तो मौलवी साहब ने निकाह पढ़ाने से मना कर दिया.

निकाह पढ़ाने वाले मौलवी का तर्क था कि शादी में डीजे बजाना गैर शरई है, ऐसे में वह निकाह नहीं पढ़ाएंगे.शादी के दौरान डीजे बजाने को लेकर मौलवी द्वारा निकाह ना पढ़ाये जाने के फैसले को देवबंद के उलेमा ने ठीक बताया है.

उलेमाओं ने अन्य उलेमाओं से भी अपील की है कि जहां डीजे या बैंड बाजा बजाया जा रहा हो वहां निकाह पढ़वाने वो ना जाएं. देवबंद उलेमा व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष इत्तेहाद उलेमा-ए-हिंद मुफ़्ती असद कासमी का कहना है कि जो चीजें इस्लाम व शरीयत के खिलाफ है उनका विरोध होना चाहिए.

सोमवार को ही उत्तर प्रदेश के ललितपुर जिले में जिला मुस्लिम एसोसिएशन ने बैठक कर मुस्लिम समाज के लोगों द्वारा शादी समारोह कार्यक्रमों में होने वाली फिजूलखर्ची को रोकने का सामूहिक फैसला किया था.

बैठक में कहा गया था कि शादी में डीजे और बैंड न बजें और न ही खड़े होकर खाना खाया जाए. इस फैसले को न मानने वालों का निकाह कोई इमाम नहीं पढ़ाएगा.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *