महाराष्ट्र के सियासी बवाल के बीच उद्धव ठाकरे ने मोदी सरकार पर बोला ह’मला,’पब्लिक करिए..’

November 3, 2019 by No Comments

मुंबई: महाराष्ट्र में इस समय सबसे बड़ा सवाल यही है कि आने वाले दिनों में सरकार कौन सा गठबंधन बनाएगा. यूँ तो कांग्रेस-एनसीपी के पास इतनी सीटें नहीं हैं कि वो सरकार बनाने का दावा करें लेकिन शिवसेना को अगर वो समर्थन दे देते हैं तो तीनों दलों के पास मिलकर बहुमत से अधिक सीटें हो जायेंगी. शिवसेना के बारे में कयास तो सभी लगा रहे हैं लेकिन कोई पक्के तौर पर नहीं कह सकता कि शिवसेना भाजपा से गठबंधन तोड़ेगी ही.

हालाँकि भाजपा के कुछ नेता ये मान रहे हैं कि इस बार शिवसेना कोई बड़ा क़दम उठा सकती है. भाजपा ने शुरू में ये माना था कि शिवसेना पुरानी आदत की तरह इस बार भी थोड़ा नाराज़गी दिखायेगी और अंत में मान जाएगी.परन्तु ऐसा नहीं होता दिख रहा है और सरकार बनाने को लेकर एनसीपी और कांग्रेस से उसकी शुरूआती बातचीत होने भी लगी है. इस बीच शिवसेना के अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने बड़ा बयान दिया है.

ठाकरे ने आज कहा था कि सरकार बनने के बारे में जल्दी ही फ़ैसला होगा और आप लोग को पता चलेगा. इसके अलावा उन्होंने कहा कि भारत आने कल रीजनल कोम्प्रीहेन्सिव इकनोमिक पार्टनरशिप पर दस्तख़त करने जा रहा है..इससे छोटे व्यापार प्रभावित होंगे. ठाकरे ने मांग की कि इस अग्रीमेंट में जो शर्तें हैं उन्हें पब्लिक किया जाए. उद्धव ठाकरे के इस बयान से भी ज़ाहिर है कि अब शिवसेना भाजपा से गठबंधन तोड़ने के लिए पूरी तरह से तैयार है.

इसके पहले शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि उनके दल के पास 170 विधायकों का समर्थन है. उन्होंने कहा कि ये आंकड़ा 175 भी पहुँच सकता है. उनके इस बयान से अंदाज़ा लगाया जा सकता है कि उन्होंने एनसीपी और कांग्रेस से बात कर ली है और उन्हें उम्मीद है कि ये दोनों दल उन्हें समर्थन देंगे.