इन बाहुबली नेताओं की पत्नियां इस बार चुनावी दं’गल में देंगी विरोधियों को पटखनी.. तीसरे नंबर वाली..

October 24, 2020 by No Comments

बिहार विधानसभा चुनाव के लिए चुनावी बिगुल बज चुका है। इस बार बिहार की सियासत में भले ही बा’हुब’ली नेता चुनाव नहीं लड़ रहे हैं। लेकिन उनकी पत्नियों को इस बार कई राजनीतिक दलों ने चुनावी दं’गल में उतार दिया है। आज हम आपको ऐसे पांच बाहुबली नेताओं के बारे में बताने जा रहे हैं जो इस वक्त जेल में है। लेकिन ऐसी स्थिति में उनकी पत्नियों से इन राजनीतिक दलों ने उम्मीद लगाई हुई है।

इस कड़ी में पहला नाम आता है नीलम देवी का। जोकि बाहुबली विधायक अनंत सिंह की पत्नी है। इससे पहले नीलम देवी साल 2019 में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ चुकी है लेकिन इनको सफलता नहीं मिल पाई। इस बार विधानसभा चुनाव में नीलम देवी निर्दलीय चुनाव लड़ने जा रही हैं। इस कड़ी में दूसरा नंबर आता है बाहुबली पूर्व सांसद आनंद मोहन की पत्नी लवली आनंद का। जिन्हें राजद ने सहरसा जिले से उम्मीदवार बनाया है।
आपको बता दें कि आनंद मोहन सहरसा जेल में पूर्व जिलाधिकारी जी कृष्णा ह’त्याकां’ड मामले में स’जा का’ट रहे हैं।

इस कड़ी में तीसरा नंबर आता है बाहुबली नेता अरुण यादव की पत्नी किरण देवी का जो कि इस बार चुनावी दं’गल में उत्तर रही हैं। इस कड़ी में अगला नंबर आता है मनोरमा देवी का जो कि बाहुबली नेता रॉकी यादव की पत्नी है। जदयू ने इन्हे गया जिले के अतरी सीट से मनोरमा देवी को टिकट दिया है। इस समय के दौरान मनोरमा देवी स्थानीय प्राधिकरण क्षेत्र से विधान पार्षद सदस्य हैं।

इस कड़ी में अगला नंबर आता है विभा देवी का जो कि बाहुबली नेता राजबल्लभ यादव की पत्नी है। बताया जा रहा है कि विभा देवी को राजद ने इस बार नवादा सीट से चुनावी मैदान में उतारा है। साल 2016 में 15 वर्ष की एक लड़की ने राजबल्लभ यादव के ऊपर रे’प का आ’रोप लगाया था, जिस मामले में राजबल्लभ फ’रार हो गए थे। राजबल्लभ की पत्नी विभा देवी वर्ष 2019 में आरजेडी से लोकसभा का चुनाव ल’ड़ चुकी हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *