तेलंगाना सरकार की रिपोर्ट में बड़ा दावा, को’रो’ना से ल’ड़ा’ई में ये दवा बेहद प्रभावी..

May 20, 2020 by No Comments

को’रो’ना वा’य’रस सं’क्र’मण के लिए दुनिया का हर देश वै’क्सी’न बनाने की क’वा’यद में जुटा हुआ है। दुनिया के बड़े-बड़े देश इस वैक्सीन को सबसे पहले बनाने का दावा पेश कर रही हैं। इसी बीच भारत के तेलंगाना की तरफ से को’विड-19 ब’चा’ने के लिए हाइ’ड्रो’क्सीक्लो’रोक्वी’न या ए’चसी’क्यू के रोग’नि’रो’धी उपयोग की प्र’भावका’रिता पर आशाजनक परिणाम मिले हैं।

खबर के मुताबिक तेलंगाना सरकार द्वारा तैयार की गई एक अंतरिम रिपोर्ट में पाया गया है कि जिन 70 फ़ीसदी से अधिक स्वास्थ्य कर्मियों ने म’लेरि’या के लिए इस्ते’माल की जाने वाली दवा को ट्रा’यल के आधार पर को’रो’ना वा’य’रस से बचने के लिए इस्तेमाल किया था। उनमें सार्स-सीओवी-2 (कोविड-19) वा’य’रस संक्र’मण के कोई लक्षण नहीं दिखाए दिए। ये दावा तेलंगाना सरकार द्वारा की गई एक रिसर्च में किया गया है।

जिसके तहत ये कहा जा रहा है कि को’रो’ना म’री’जों के संपर्क में आने वाले जिन 394 (73.9 फीसदी) स्वास्थकर्मियों ने एचसीक्यू का सेवन किया था, उनमें को’रोना वा’यरस को लेकर रो’ग प्र’तिरो’धक क्षम’ता मजबूत दिखाई दी। इसके अलावा, इन 394 फ्रंटलाइन स्वास्थ्य कर्मियों में से एचसीक्यू दवा को लेने वाले 71 फीसदी स्वास्थ्य कर्मी कोविड-19 जांच में ने’गेटि’व पाए गए।

रिपोर्ट में कहा गया कि एचसीक्यू का सेवन करने वाले 533 स्वा’स्थ्यक’र्मियों में से 394 (73.9 फीसदी) का को’रो’ना सं’क्रमि’तों के साथ संपर्क हुआ। इन सभी को सलाह दी गई थी कि जब भी ये को’रो’ना म’री’ज के सं’पर्क में जाए, पीपीई किट को जरूर पहनें। इनमें से किसी में भी को’विड-19 के लक्षण नहीं दिखाई दिए, फिर वो चाहे, बुखा’र, गले में ख’राश या खां’सी आना ही क्यों न हो।

गौरतलब है कि भारत सरकार ने एच’सीक्यू की लाखों गो’लि’यों को दुनिया के कई देशों को एक्सपोर्ट किया है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत द्वारा ऐसी क्यों के एक्सपोर्ट के प्रति’बं’धों को ह’टा’ने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का खास तौर पर शुक्रिया भी अदा किया था।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *