अधिकारी ने तबलीगी ज़मात के खिला’फ बोलना पड़ा महं’गा, सरकार ने कर दी कार्यवाई…अब

April 11, 2020 by No Comments

रामगढ़-सोशल मीडिया पर तबलीगी जमात के खिलाफ बोलना जिला शिक्षा पदाधिकारी सुशील कुमार को महं’गा पड़ गया.यूपी सरकार ने उनके पोस्ट को लेकर उनको कारण बताओ नो’टिस जारी किया है और एक सप्ताह के अंदर जवाब देने को कहा है.स्कूली शिक्षा व साक्षरता विभाग के नो’टिस में कहा गया है कि डीईओ ने अपने फेसबुक पेज पर सांप्रदा’यिक सौ’हार्द बिगाड़ने वाली टिप्पणी की.

सरकार ने कहाकि उनका आचरण संविधान के मूल सिद्धांतों और सरकारी कर्मचारी आचरण नियमावली के विरुद्ध है.दरअसल डीईओ ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा कि क्रिमिन’ल तबलीगियों की कुटा’ई जरूरी हो गई है.इस पोस्ट पर वि’वाद बढ़ने के बाद स्कूली शिक्षा व साक्षरता विभाग ने उनको नो’टिस जारी कर सात दिन में जवाब मांगा है.नोटि’स में कहा गया है कि जवाब नहीं मिलने पर यह माना जाएगा कि आपको इस मामले में कुछ नहीं कहना है.इसके बाद आपके खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी.

नोटिस में कहा गया है कि किसी भी सरकारी कर्मचारी से सोशल मीडिया पर ऐसी टि’प्पणी किए जाने की अपेक्षा नहीं की जा सकती है.यह संविधान के मूल सिद्धांत और सरकारी कर्मचारी आचरण नियमावली के खि’लाफ है.

उधर,जिले के कुजू थानाक्षेत्र के ओरला जंगल में कुछ लोग अस्थाई आशियाना बना कर रह रहे थे.पुलिस को इसकी गुप्त सूचना मिली.लेकिन छा’पेमारी के लिए पुलि’स के पहुंचने से पहले ही लोग जंगल से फरार हो गए.पुलि’स को आशंका है कि जंगल में तबलीगी जमात या कुछ और लोग छिपकर रह रहे थे.उनके बारे में जानकारी जुटाई जा रही है.पुलि’स ने झोपड़ी को आ’ग के हवा’ले कर दिया.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *