शिवसेना के नेतृत्व में महाराष्ट्र सरकार बनना तय, कांग्रेस देगी समर्थन?

November 11, 2019 by No Comments

मुंबई: महाराष्ट्र में बदले सियासी घटनाक्रम के बाद अब पूरी तरह से निगाहें एनसीपी और कांग्रेस पर लगी हैं. एनसीपी और कांग्रेस अगर शिवसेना को समर्थन दे देती हैं तो महाराष्ट्र में शिवसेना की सरकार बनना तय है. एनसीपी के वरिष्ठ नेता नवाब मलिक ने पार्टी की कोर ग्रुप मीटिंग के बाद कहा कि हम कांग्रेस के फ़ैसले का इंतज़ार कर रहे हैं..हमने साथ में चुनाव लड़ा है और हम जो भी तय करेंगे साथ ही में तय करेंगे.

मलिक ने कहा कि कांग्रेस के विधायक शिवसेना के नेतृत्व वाली सरकार का समर्थन करना चाहते हैं लेकिन कांग्रेस वोर्किंग समिति पार्टी की सुप्रीम बॉडी है तो वही इस पर फ़ैसला करेगी. जानकार मानते हैं कि कांग्रेस इस सरकार को बाहर से समर्थन देगी. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ शिवसेना का मुख्यमंत्री और एनसीपी का उपमुख्यमंत्री होगा. शिवसेना की ओर से दो नाम चर्चा में हैं..एक नाम ख़ुद पार्टी अध्यक्ष उद्धव ठाकरे का है तो दूसरा नाम उनके बेटे आदित्य ठाकरे का है.

पार्टी के अनुभवी नेताओं का मत है कि गठबंधन सरकार चलाने के लिए उद्धव ठाकरे जैसी परिपक्वता चाहिए इसलिए उन्हीं को मुख्यमंत्री चुना जाना चाहिए. वहीँ कार्यकर्ताओं में आदित्य ठाकरे को लेकर भी सकारात्मक मत है. एनसीपी की ओर से अजीत पवार का नाम उपमुख्यमंत्री पद के लिए आगे चल रहा है.ख़बर है कि आज सुबह शिवसेना मंत्री अरविन्द सावंत ने अपना इस्तीफ़ा दे दिया है.

शिवसेना नेता संजय राउत ने अपने बयान में कहा है कि ये भाजपा का घमण्ड है कि उन्होंने महाराष्ट्र में सरकार बनाने से मना कर दिया. राउत ने कहा कि ये महाराष्ट्र के लोगों का अपमान है.. वो विपक्ष में बैठ जाएँगे लेकिन 50-50 फ़ॉर्मूला नहीं मानेंगे जिसको चुनाव से पहले मान रहे थे.इसके पहले कल महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी ने राज्य की दूसरी बड़ी पार्टी से से कहा है कि वो महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए इच्छा जताएं.

इसके साथ ही NDA से शिवसेना ने ख़ुद को अलग कर लिया है. भले ही इससे केंद्र सरकार पर किसी तरह की कोई मुसीबत नहीं आएगी लेकिन भाजपा को कई मायनों में बड़ा झटका लगा है. महाराष्ट्र में भाजपा जीत का जश्न मना रही थी लेकिन वो जीत कर भी सरकार न बना सकी. भाजपा के बारे में पिछले कुछ सालों से कहा जा रहा है कि वो हार को भी जीत में बदल लेती है लेकिन इस बार उसके साथ उल्टा हो गया.