कमलनाथ सरकार गि’राने को लेकर बड़ा खु’ला’सा, शिवराज सिंह के मुंह से निकला ये सच..

June 10, 2020 by No Comments

मध्य प्रदेश में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने मार्च के महीने कमलनाथ सरकार गिराकर सत्ता का’बिज की थी। मध्य प्रदेश में मौजूदा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का एक ऑडियो क्लिप सोशल मीडिया पर काफी वा’य’रल हो रहा है। जिसमें वह कथित तौर पर यह कहते हुए सुनाई दे रहे हैं कि केंद्रीय नेतृत्व ने तय किया कि सरकार गि’रने है नहीं तो यह सब कुछ ब’र्बा’द कर देगी। मुझे बताओ कि क्या ज्योतिरादित्य सिंधिया और तुलसी भाई के बिना सरकार गि’र सकती थी, कोई तरीका नहीं था।

इस ऑडियो में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इंदौर के सांवेर विधानसभा क्षेत्र के पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे हैं। आपको बता दें कि ऑडियो क्लिप में जिससे तुलसी सिलावट का नाम लिया गया है। वह कांग्रेस के पूर्व नेता और इस वक्त बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य के व’फादा’र माने जाते हैं। तुलसी सिलावट भी ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए थे।

लंबे वक्त तक कांग्रेस में रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अचानक कांग्रेस छोड़ने का फैसला लिया था। आपको बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के पिता माधवराव सिंधिया देश की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और राजीव गांधी के खास करीबी माने जाते थे। ज्योतिरादित्य और उनके करीबी विधायकों के कांग्रेस छोड़ने के चलते कमलनाथ सरकार गि’र गई थी। कांग्रेस छोड़ने से पहले सिंधिया करीब 19 सालों तक पार्टी में रहे थे।

यह कथि’त ऑडियो क्लिप वा’यरल होने के बाद कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने इस पर तीखी प्रतिक्रिया दी है उन्होंने कहा है कि बीजेपी शुरू से ही कांग्रेस के आ’रो’पों को नकारते रही है लेकिन सबने देखा है कि जो विधायक बेंगलुरु में बं’धक बनाए गए। उनके साथ बीजेपी नेता भी मौजूद थे।

उनकी तस्वीरें भी सामने आई थी लेकिन अब प्रदेश के सीएम शिवराज चौहान ने खुद इंदौर के रेसीडेंसी कोठी में सांवेर के कार्यकर्ताओं की एक बैठक में सार्वजनिक रूप से यह स्वीकार कर कांग्रेस के उन आरोपों पर मोहर लगा दी है। हमारा वेब पोर्टल ”वा’यरल क्लिक” किसी भी तरह से वायरल ऑडियो क्लिप की पुष्टि नहीं करता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *