शिवपाल यादव के बयान से मचा सियासी हड़कंप, सपा को छोड़ इस पार्टी के साथ करेंगे…

December 10, 2020 by No Comments

उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव में अभी बहुत वक्त बाकी है। लेकिन समाजवादी पार्टी से लेकर प्रदेश की गई क्षेत्रीय पार्टियां अभी से ही सि’यासी जोड़-तोड़ में जुट गई हैं। इसी बीच प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव का बड़ा बयान सामने आया है।

बाराबंकी में आयोजित एक शादी समारोह में शामिल होने पहुंचे सपा अध्यक्ष शिवपाल यादव ने मीडिया से बातचीत करते हुए साल 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव पर बड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि हो सकता है कि साल 2022 के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी को छोड़ वह ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुस्लिमीन के साथ गठबंधन कर लें। इसके साथ ही शिवपाल यादव ने आईएमआईएम के अध्यक्ष को ध’र्मनि’रपेक्ष बताया है।

आपको बता दें कि बसपा अध्यक्ष ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में छोटे-छोटे राजनीतिक दलों को एक साथ लाने की तरफ इशारा करते हुए कहा है कि इस मामले में मेरी असदुद्दीन ओवैसी से बात हुई है और उनके प्रदेश अध्यक्ष ने हमारे साथ मुलाकात भी की है।
अगर राज्य से भारतीय जनता पार्टी को हटाना है तो सभी छोटे छोटे दलों को एक साथ आना होगा। ओवैसी की पार्टी की विचारधारा ध’र्मनि’रपेक्ष है। हम ध’र्मनिर’पेक्ष की जितनी भी शक्तियां हैं। सभी को एक करेंगे और भाजपा के खि’लाफ चुनाव लड़ेंगे।

वहीं किसानों के मुद्दे पर कहा कि सरकार द्वारा पारित ये किसान अध्यादेश किसान वि’रो’धी है। किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य सरकार दे नहीं पा रही। देश के छोटे-छोटे किसान अपने अनाज मंडियों में नहीं पहुंचा पाता था वो बाहर कैसे पहुँचा पायेगा। ये जो कृषि कानून बना है वो देश के पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने के लिए बनाया गया है। जिसकी वजह से पूरे देश का किसान सड़को पर है और सरकार उनकी बात तक नहीं सुन रही है। सरकार अपनी ह’ठध’र्मिता पर है और महंगाई के चलते किसानों को उनकी फसलों का उचित दाम नहीं मिल पा रहा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *