PM मोदी ने कोरोना महामारी को लेकर एक बार फिर दिया ये बड़ा संदेश, ”इस बार ये पांच”..

November 22, 2020 by No Comments

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जी-20 शिखर सम्मेलन में को’रोना’वाय’रस सं’क्रमण को दूसरे विश्वयुद्ध के बाद दुनिया के लिए सबसे बड़ी चुनौती करार दिया है। मानवता के इतिहास में एक अहम बिं’दु करार दिया है। इस दौरान पीएम मोदी ने जी20 ग्रुप के कुशल कामकाज के लिए भारत की आईटी शक्ति के सहयोग का प्रस्ताव भी दिया है।

देश में फै’ली कोरोना महामा’री के बाद की स्थितियों में इस हालात सुधारने के लिए पीएम मोदी ने पांच सुझाव दिए हैं। इनमें, 1- प्रतिभाशाली लोगों का पूल बनाना, 2- तकनीक का बेहतर इस्तेमाल, 3- समाज के सभी वर्गों तक बेहतर पहुंच, 4- शासन में पारदर्शिता, 5- धरती माता के प्रति अपने कर्तव्यों का सही तरीके से पालन। पीएम मोदी ने कहा कि इन तरीकों पर अमल कर जी 20 देश नई दुनिया का निर्माण कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा, इनके आधार पर ही जी20 नए विश्व की नींव रख सकता है। उन्होंने आगे कहा, हमारी प्रक्रिया में पारदर्शिता हमारे समाज को संकट से मिलकर और विश्वास के साथ लड़ने के लिए प्रेरित करने में मदद देगी। पृथ्वी ग्रह के प्रति संरक्षण की भावना हमें एक स्वस्थ व समग्र जीवनशैली के लिए प्रेरित करेगी।

शिखर सम्मेलन में हिस्सेदारी के बाद पीएम मोदी ने ट्वीट में लिखा, जी20 के नेताओं के साथ चर्चा बेहद उपयोगी रही। विश्व की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के संयुक्त प्रयास निश्चित तौर पर इस महामा’री से त्वरित रि’कवरी की तरफ ले जाएंगे। इस वर्चुअल सम्मेलन की मेजबानी के लिए धन्यवाद सऊदी अरब। 

आपको बता दें कि इस बार को’रो’ना वा’यरस महामा’री के कारण सभी देशों के नेता इस सम्मेलन में वर्चुअल तरीके से शिरकत कर रहे हैं। भारत को 2022 में जी20 सम्मेलन की मेजबानी करनी है। पीएम मोदी ने यह भी कहा कि ‘कहीं से भी कामकाज’ कोविड-19 के बाद के विश्व में एक न्यू नार्मल है। गौरतलब है कि भारत में एक बार फिर से कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी हो रही है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *