पीएम मोदी आज शाम करेंगे बड़ी बैठक, लॉकडाउन पर लेंगे…

July 30, 2020 by No Comments

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब आ’त्मनिर्भर भारत पैकेज की घोषणा की थी, तो उसमें एनबीएफसी और एचएफसी के लिए घो’षित की गई 30 हजार करोड़ रुपये की विशेष तरलता योजना के तहत पांच प्रस्तावों के लिए 3090 करोड़ रुपये की राशि को मंजूरी दी थी। इसके अलावा आरबीआई भी बैंकिंग सेक्टर को ब’चाने के लिए कई योजनाओं पर काम कर रहा है।

इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी इस बैठक में वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए हिस्सा लेगें। इस दौरान प्रधानमंत्री कोरोना वा’यरस और लॉकडाउन के दौरान अर्थव्यवस्था की स्थिति और क्रेडिट फ्लो का जायजा लेंगे। गौरतलब है कि लंबे वक्त से केंद्र सरकार बैंकिंग सेक्टर पर ध्यान दे रही है। इसी कड़ी में प्रधानमंत्री मोदी आज शाम बैंक प्रमुखों और NBFCs स्टेकहोल्डर्स के साथ अहम बैठक करने जा रहे हैं।

प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी जानकारी के मुताबिक इस बैठक में भविष्य के लिए विजन और रोडमैप पर विचार-विमर्श किया जाएगा। गौरतलब है कि चीन से शुरू हुए को’रोना वा’यरस की वजह से देशभर में लागू लॉकडाउन से देश की अर्थव्यवस्था को बड़ा नुकसान हुआ। बैंकिंग सेक्टर भी इससे अछूता नहीं है। सरकार लगातार इस सेक्टर को पटरी पर लाने के लिए काम कर रही है।

आपको बता दें कि पूरी दुनिया इस समय कोरोना संकट से जूझ रही है। जिसकी वजह से दुनियाभर के देशों की अर्थव्यवस्था पर असर पड़ा है। इससे पहले भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने बैंकों और NBFC को फाइनेंशियल क्रा’इसे’स से निपटने के लिए सक्रिय आधार पर पूंजी जुटाने की सलाह दी थी। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री पिछले कुछ सप्ताह से इकोनॉमी से जुड़े विभिन्न सेक्टर्स के साथ बैठक कर रहे हैं और इसी कड़ी में वह आज बैंकों एवं एनबीएफसी के प्रमुखों के साथ बैठक करने वाले हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बैंकों और एनबीएफसी के प्रमुखों से कहा है कि उन्हें अपने काम करने के तरीके पर एक बार फिर से गौर करना चाहिए। पीएम मोदी ने क्रेडिट ग्रोथ में कमी को लेकर कहा कि उन्हें सिर्फ एनपीए के डर से कर्ज देने से मना नहीं करना चाहिए और अच्छे प्रस्तावों को स्वीकार किया जाना चाहिए।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *