हर मु’स्लिम को पढ़ना चाहिए पहली अज़ान का क़िस्सा, प्यारे नबी (स.अ.व.) ने फ़रमाया…

January 29, 2021 by No Comments

सही हादीस से पता चलता है कि अज़ान रसूल करीम सललल्लाहु अलैहि वसल्लम के जमाने में मदीना शरीफ़ में शुरू हुई, हज़रत इबन अमीर बन अनस अपने एक अंसारी चचा से बयान करते हैं कि नबी करीम सललल्लाहु ताला अलैहि वसल्लम को ये मसला दरपेश आया कि लोगों को नमाज़ के लिए कैसे जमा किया जाये? किसी ने कहा कि नमाज़ का वक़्त होने पर झंडा नसब कर दिया जाये जब वो उसे देखेंगे तो एक दूसरे को बता देंगे, लेकिन रसूल करीम सललल्लाहु ताला अलैहि वसल्लम को ये तरीक़ा पसंद ना आया।

इसी तरह किसी ने कहा कि नाकूस बाजा दिया जाये, किसी और कोई राय पेश की, लेकिन अल्लाह के रसूल सललल्लाहु ताला अलैहि वसल्लम को किसी की राय पसंद न आई। इसके बाद लोग वहाँ से चले गए, उन्हीं में एक सहाबी थे, अब्दुललाह इबने ज़ैद वह वहां से निकले तो यही बात सोच रहे थे, कि आखिर इस मामले को कैसे हल किया जाये। जब वह सो गए तो उन्होने ख्वाब देखा कि एक फरिश्ता आकर उन्हें अज़ान के कलमे बता रहा है, सुबह वह जाकर अल्लाह के रसूल सललल्लाहु ताला अलैहि वसल्लम को बताए, और उसी वक़्त से अज़ान की शुरुआत हुई।

इस ख्वाब के बाद अल्लाह के रसूल सललल्लाहु ताला अलैहि वसल्लम ने फरमाया कि यह ख्वाब हक़ है, और उसके बाद अल्लाह के रसूल सललल्लाहु ताला अलैहि वसल्लम ने हज़रत बिलाल हबशी राज़ी अल्लाहु ताला अनहु को हुक्म दिया कि वह अज़ान पढ़ें। अल्लाह के रसूल सललल्लाहु ताला अलैहि वसल्लम ख्वाब देखने वाले सहाबी से फरमाया कि तुम बिलाल के साथ खड़े हो कर अपनी ख्वाब बयान करो, और वो अज़ान कहे, क्योंकि उन की आवाज़ तुमसे ज़्यादा बुलंद है।

चुनांचे वह हज़रत बिलाल रज़ी अल्लाहु ताला अनहु के साथ खड़े हुये, और उन्हें कलिमात बताते रहे, और वो इन कलिमात के साथ अज़ान देने लगे, जब हज़रत उम्र रज़ी अल्लाहु ताला अनहु ने ये अपने घर में सुने तो वो अपनी चादर खींचते हुए चले आए और कहने लगे। ए अल्लाह-तआला के रसूल सल्लाहु ताला अलैहि वसल्लम उस ज़ात की क़सम जिसने आपको हक़ देकर मबऊस किया है, मैंने भी इसी तरह की ख्वाब देखी है चुनांचे अल्लाह के रसूल सललल्लाहु ताला अलैहि वसल्लम ने फ़रमाया: अलहमदु लिल्लाह ये इस बात की दलील हैं कि अज़ान की शुरुआत रसूल करीम सललल्लाहु अलैहि वसल्लम के मदनी दौर यानी मदीना मुनव्वरा में शुरू हुई.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *