पठान बंधुओं के नाम दर्ज है यह अनोखा रिकॉर्ड, तो’ड़ पाना है अ’संभ’व..

May 5, 2020 by No Comments

क्रिकेट की दुनिया में पठान भाइयों में जो मुकाम हासिल किया है। वो किसी पहचान का मोहताज नहीं है। भारत क्रिकेट टीम में कई भाइयों की जोड़ी मैदान पर साथ उतर चुकी है। मौजूदा समय में ही टीम इंडिया में पंड्या बंधु काफी नाम रोशन कर रहे हैं। गौरतलब है कि इरफान पठान और यूसुफ पठान भी टीम इंडिया के लिए साथ-साथ खेल चुके हैं।

क्रिकेट की दुनिया में पठान बंधुओं ने एक ऐसा रिकॉर्ड अपने नाम किया है, जिसे तोड़ना अब किसी भी खिलाड़ी के असंभव है। इरफान पठान ने साल 2003 दिसंबर में एडिलेड में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुई टेस्ट मैच से अपने इंटरनेशनल करियर की शुरुआत की थी। उन्होंने दिसंबर 2006 में साउथ अफ्रीका के खि’ला’फ मैच से T20 इंटरनेशनल में डेब्यू किया।

इरफ़ान खान के बड़े भाई यूसुफ पठान की बात करें तो वे कभी भी टेस्ट टीम में नहीं चुने गए। हालांकि, वनडे और टी20 में भारत का प्रतिनिधत्व किया। उन्होंने जनवरी 2007 में जोहानिसबर्ग में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 मैच से इंटरनेशनल क्रिकेट में पदार्पण किया था। यूसूफ ने जनवरी 2008 में ढाका में बांग्लादेश के खिलाफ मैच से वनडे करियर की शुरुआत की थी।

युसूफ पठान के नाम टीम इंडिया के नाम पहला टी20 वर्ल्ड कप जीतने का रिकॉर्ड है। साल 2007 में पहला T20 वर्ल्ड कप हुआ था। जिसमें इरफान पठान मैन ऑफ द मैच चुने गए थे इसके बाद साल 2008 में इंडियन प्रीमियर लीग का आगाज हुआ। पहली बार राजस्थान रॉयल्स आईपीएल की चैंपियन बनी उस मैच में यूसुफ पठान ने 4 ओवर में 22 रन देकर तीन विकेट लिए थे। जिसमें उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया था।

ये वे दोनों रिकॉर्ड हैं, जो पठान बंधुओं के नाम दर्ज हैं। यानी पहले टी20 वर्ल्ड के फाइनल और पहले आईपीएल फाइनल में मैन ऑफ द मैच चुना जाना। इसे एक संयोग भी कहा जा सकता है। हालांकि, पठान बंधुओं के इन रिकॉर्डों को तो’ड़’ना ना’मुमकि’न है, क्योंकि दोनों ही टूर्नामेंट का पहला सीजन तो अब होने से रहा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *