निकाय चुनाव के नतीजों से ख़ुश भाजपा को लगा बड़ा झटका, ओवैसी ने TRS के साथ मिलकर लहराया परचम..

February 11, 2021 by No Comments

ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम में भारतीय जनता पार्टी को हराने के लिए असदुद्दीन ओवैसी ने बड़ा दांव चल दिया है। बताया जा रहा है कि ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम में तेलंगाना राष्ट्र समिति को समर्थन दे दिया है।

जिसके बाद ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम के महापौर और उपमहापौर पद पर टीआरएस की महिला टीम का कब्जा हो चुका है। इस मामले में ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव के लिए टीआरएस की गढ़वाल विजयलक्ष्मी को महापौर चुना गया है। टीआरएस से आने वाली गढ़वाल विजयलक्ष्मी वार्ड नंबर 93 से चुनकर सदन पहुंची है। महापौर का चुनाव ध्वनिमत से हुआ, गड़वाल विजयालक्ष्मी ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम की 17वीं महापौर बनेंगी।

ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन की तरफ से रणनीतिक तौर पर समर्थन मिलने के बाद तेलंगाना राष्ट्र समिति की गढ़वाल विजयलक्ष्मी को ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम का महापौर चुना जा चुका है। बताया जाता है कि बंजारा हिल्स डिवीजन का प्रतिनिधित्व करने वाली विजयलक्ष्मी टीआरएस नेता केशव राय की बेटी हैं। उन्होंने इस चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार और आरके पुरम डिवीजन से कॉरपोरेटर राधा धीरज रेड्डी को मात दी।

विजयालक्ष्मी साल 2014 में तेलंगाना के गठन के बाद ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) की पहली महिला मेयर हैं और 2009 में जीएचएमसी के गठन के बाद कुर्सी पर कब्जा जमाने वाली दूसरी महिला हैं। पहली कांग्रेस की बांदा कार्तिका रेड्डी हैं। वहीं, तरनाका डिविजन के एक और टीआरएस कॉरपोरेटर मोहित श्रीलता रेड्डी को जीएचएमसी का उप महापौर चुना गया। उन्होंने भाजपा के शंकर यादव को हराया।

टीआरएस अध्यक्ष और मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने विजयलक्ष्मी और श्रीलता नामों को सीलबंद लिफाफे में पार्टी को भेज दिया। टीआरएस के कार्यकारी अध्यक्ष केटी रामाराव ने जीएचएमसी परिसर में नवनिर्वाचित नामों की घोषणा की।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *