पूरे देश में 1 अगस्त को होगा ये, हुई बड़ी घोषणा, आज रात से…

July 25, 2020 by No Comments

मंगलवार रात कहीं से भी चांद की शा’हद’त नहीं मिलने से अब ईदुलजुहा का त्यौहार एक अगस्त को मनाया जायेगा। अजमेर दरगाह शरीफ के अधीन हिलाल कमेटी की बैठक के बाद शहर काजी मौलाना तौसीफ अहमद सिद्की ने घोषणा करते हुए बताया कि कहीं से भी चांद दिखाई देने की सूचना नहीं मिली।

इसलिए अब आज रात से जिलहज माह का आगाज होगा और चांद रात के बाद दसवें दिन मनाया जाने वाला ईदुलजुहा का पर्व एक अगस्त को मनाया जायेगा। इस बीच ख्वाजा साहब की महाना छठी 28 जुलाई को विशेष फातहा के साथ दरगाह में आयोजित होगी। इसमें खादिम स’मुदा’य शि’रकत करेगा।

उधर, सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात और कतर जैसे इ’स्ला’मी देश ऐलान कर चुके हैं कि ईद-उल अज्हा 31 जुलाई को मनाई जाएगी। इ’स्ला’मी पंचांग के मुताबिक, ईद-उल अज्हा धु अल-हि’जा के 10वें दिन मनाई जाती है। खास खबर पर छपी खबर के अनुसार, इसलिए ईद-उल अज्हा यानी ब’करी’द 1 अगस्त को मनाई जाएगी। मौलाना मुकर्रम फतेहपुरी रॉयल हि’ला’ल कमिटी के अध्यक्ष भी हैं।

वहीं, म’रक’जी चांद कमिटी ने भी कहा कि मंगलवार को चांद का दीदार नहीं हुआ।फतेहपुरी म’स्जि’द के शाही इमाम मौलाना डॉ. मुफ्ती मोहम्मद मुकर्रम ने मंगलवार को ऐलान किया कि नया चांद अभी तक नहीं दिखा है। आपको बता दें कि मु’सलमा’नों के प्रमुख त्यौहारों में से एक ईद-उल-अजहा अरबी महीने जिलहिज्जा की दसवीं तारीख को मनाया जाता है।

अगर मंगलवार को चांद दिख जाता तो जिलहिज्ज के महीने की पहली तारीख कल यानी 2 जुलाई को होती और ईद 31 जुलाई को हो जाती। अब जबकि चांद नहीं दिखा तो 3 जुलाई को जि’लहि’ज्ज का पहला दिन होगा और दसवें दिन यानी 1 अगस्त को ब’करी’द मनाई जाएगी। ब’करी’द पर मु’सल’मान जानवरों की कु’र्बा’नी देते हैं और दुनियाभर में ये त्योहार धूमधाम से मनाया जाता है।। हालांकि इस साल ब’करी’द का त्योहार हर साल की तरह नहीं होगा। इसकी वजह है कोरोना वा’यरस म’हामा’री का फै’ला होना। को’रो’ना के चलते धा’र्मि’क सभाओं की मंजूरी नहीं है। ऐसे में ई’दगा’ह में नमाज नहीं हो सकेगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *