नीतीश कुमार राजद के इस मुस्लिम चेहरे पर लगा रहे हैं दांव, पार्टी में वि’रोध शुरू..

December 14, 2020 by No Comments

बिहार में हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनता दल पार्टी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। लेकिन एक बार फिर से राज्य में एनडीए की सरकार बन चुकी है एनडीए की तरफ से नीतीश कुमार को ही राज्य का मुख्यमंत्री बनाया गया है। अब खबर सामने आ रही है कि नीतीश कुमार की अगुवाई वाली एनडीए की सरकार बनने के बाद भी अटकलों का बाजार काफी ग’र्म चल रहा है।

दरअसल राजद के वरिष्ठ नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी के जनता दल यूनाइटेड में जाने की अटकलें काफी तेज हो गई है। बताया जा रहा है कि हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव में जनता दल यूनाइटेड का मुस्लिम वोट बैंक काफी कम हुआ है। जिसकी वजह से पार्टी को चिं’ता सताने लगी है। माना जा रहा है कि जनता दल यूनाइटेड के खाते से दूर हुए मु’स्लिम वोटरों को अपने पाले में लेने के लिए अब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एक साफ-सुथरी छवि के मु’स्लिम चेहरे की तलाश में हैं।

अब तक सात बार विधायक रह चुके अब्दुल सिद्दीकी पर ऐसा कोई भी आरोप नहीं है। जो उनकी छवि को खराब कर सके इसी वजह से मुस्लिम वोटरों में पैठ बनाने के लिए नीतीश कुमार उन पर नजर डाल रही हैं। लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की इस कोशिश से पार्टी में गह’मागह’मी के संकेत मिल रहे हैं।

बताया जा रहा है कि पार्टी के भीतर भी कई मुस्लिम चेहरे हैं और जदयू के मु’स्लिम नेता बाहरी चेहरे को पार्टी में एंट्री करने की बजाय पहले से मौजूद को आगे करने के पक्ष में है। बताया जा रहा है कि अब्दुल सिद्दीकी भी राजद नेता तेजस्वी यादव के नेतृत्व से नाराज हैं। इस बार के चुनावों में राजद ने सिद्दीकी की सीट बदलकर केवटी कर दी थी।

जहां से उन्हें हा’र का सामना करना पड़ा। हालांकि, हाल के दिनों में मुस्लिम मतदाताओं में उनके समर्थकों की संख्या बढ़ी है। ये देखना दिलचस्प होगा कि नीतीश कुमार अपनी चाल में कामयाब हो पाते हैं या नहीं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *