अमर उजाला ने मु’सल’मा’नों को लेकर फै’लाई फ’र्जी खबर, लेकिन इस बार भारी पड़ा..

April 21, 2020 by No Comments

देश में फै’ले को’रो’ना’वा’यरस के बीच न्यूज़ चैनलों द्वारा फर्जी और गलत खबर दिखाए जाने का सिलसिला बढ़ता जा रहा है। हाल ही में दिल्ली की नि’जामु’द्दीन म’रक’ज से त’बली’गी ज’मा’त के लोगों के क’रो’ना पॉ’जि’टिव पाए जाने के बाद से ही मु’सल’मानों को टा’रगे’ट किया जा रहा है।

बताया जा रहा है किकल वाराणसी के मदनपुरा में अमर उजाला द्वारा एक फ’र्जी खबर चलाई गई। जिसमें यह बताया गया कि इस इलाके में रहने वाले लोग थ’र्मल स्क्री’निंग के लिए जाने वाली टीम के सदस्यों के लिए दरवाजा नहीं खोलते हैं। कुछ लोग देखने के बाद उनपर थू’क’ते हैं तो कोई छतों से पानी गि’रा’ते है।

इसकी शिकायत के बाद अब टीम में पुलिस के साथ जा रही है। दरअसल मदनपुरा में रहने वाले हैदराबाद निवासी ज’मा’ती में मदनपुरा की बड़ी म’स्जि’द में न’मा’ज अदा की थी। जिसके तहत न’मा’जि’यों को भी होम क्वॉ’रेंटा’इन करने की खबर सामने आई थी लेकिन अमर उजाला द्वारा फै’ला’ई गई यह खबर झू’ठी निकली।

इस मामले में जमीयत उलेमा के अध्यक्ष मौ’ला’ना अब्दुल्लाह नासिर काजमी ने बताया कि 19 अप्रैल को यहां पर स्थित बड़ी म’स्जि’द के 41 न’माजि’यों की थ’र्म’ल ‘स्क्री’निंग और जांच के लिए जब स्वास्थ्य कर्मियों की टीम पहुंची तो उनका सहयोग किया गया और हम लोगों को यहां पर पूरी तरह से सोशल डि’स्टें’सिंग का ध्यान रख रहे हैं। लेकिन कुछ लोगों द्वारा यह अ’फ’वाह फै’ला’ई गई की जांच टीम के साथ दु’र्व्य’व’हार किया गया।

उनके ऊपर थू’का गया और पानी डाला गया जबकि यह है खबर पूरी तरह से झूठ है। इस संदर्भ में जनरल सेक्रेटरी इशरत उस्मानी ने बताया कि इस हॉ’टस्पॉ’ट इलाके में मु’स्लि’म समुदाय के लोग पूरी तरह से सरकारी म’हक’मे का सहयोग कर रहे हैं आपको बता दें कि वाराणसी का बदल भरा इलाका मु’स्लि’म बा’हु’ल्य इलाका कहा जाता है।

उत्तर प्रदेश की प्रमुख अखबार फ’र्जी खबर छाप कर ने बनारस के मु’स’लमा’नों के प्रति पूरे देश में एक गंदी छवि बनाई। ऐसी तस्वीर कि बाक़ि लोग न’फर’त करने लगें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *