भाजपा का ‘फॉर्मूला’ अपना कर कांग्रेस जीतेगी मध्यप्रदेश उपचुनाव, खासतौर पर बनाई..

August 14, 2020 by No Comments

मध्यप्रदेश में बहुत ही जल्द 27 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने वाले हैं। जिसे लेकर कांग्रेस तैयारियों में जुट गई है। यही वजह है कि कांग्रेस 27 विधानसभा उपचुनाव की सीटों पर जीत हासिल करने के लिए भारतीय जनता पार्टी का फार्मूला ही अपना आ रही है।

बताया जा रहा है कि इसके लिए पार्टी उपचुनाव वाले क्षेत्र में हर बूथ पर पन्ना प्रभारियों की तैनाती कर रही है ताकि बूथ स्तर पर पार्टी को मजबूत किया जा सके। इसके लिए हर बूथ पर पार्टी द्वारा 5 कार्यकर्ता तैनात किए जाएंगे और इन कार्यकर्ताओं को बूथ के वोटरों को साधने की जिम्मेदारी भी दी जाएगी।

गौरतलब है कि विधानसभा के एक बूथ पर 800 से लेकर 1000 वोटर होते हैं, इनमें 50 मतदाता वोटर लिस्ट के एक पन्ने पर होते हैं। इस हिसाब से देखा जाए तो एक विधानसभा में 250 से 300 बूथ होते हैं। इसलिए एक कार्यकर्तों को 4 पन्नों यानी कि कम से कम 200 मतदाताओं को साधने की जिम्मेदारी दी जाएगी। इस दौरान 5 कार्यकर्ता 200 के हिसाब से 1000 लोगों से संपर्क करेंगे।

आपको बता दें कि कांग्रेस के उपाध्यक्ष और संगठन प्रभारी चंद्र प्रभाष शेखर ने पन्ना प्रभारी बनाए जाने की रणनीति को स्वीकार किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस हर विधान सभा क्षेत्र में कमिटी बनाई है। उन्होंने कहा कि वे सेक्टर मंडलम बने हैं। वोटिंग के लिए वे जनता को जागरूक करेंगे. साथ ही वोटिंग के दिन संक्रियता से काम करेंगे।

इस मामले में भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस की पन्ना प्रभारी बनाने की कवायद पर प्रतिक्रिया जताते हुए ऐसे फालतू करार दिया है। बीजेपी उपचुनाव प्रबंध समिति के संयोजक और नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कांग्रेस में व्यापारी, राजा, पटवारी, कलेक्टर, तहसीलदार का झगड़ा चल रहा है। कांग्रेस की इस रणनीति को उन्होंने फालतू बताया। गौरतलब है कि इस बार मध्य प्रदेश विधानसभा उपचुनाव शिवराज-सिंधिया बनाम कमलनाथ-दिग्विजय के तौर पर देखा जा रहा है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *