लालू से मिलने पहुंचे तेज प्रताप बोले- जल्द ही बिहार में नीतीश की पार्टी का होगा…

December 27, 2020 by No Comments

अरुणाचल प्रदेश में जनता दल यूनाइटेड के 6 विधायकों ने पार्टी का दामन छोड़ भारतीय जनता पार्टी जॉइन कर ली है। जिसके बाद बिहार की सियासत में भी हड़कंप मचा हुआ है हालांकि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यह साफ कर दिया है कि अरुणाचल में घटे इस घटनाक्रम के कारण बिहार की सियासत में कोई असर नहीं पड़ेगा। लेकिन विपक्षी दलों द्वारा यह अनुमान लगाया जा रहा है कि भाजपा और जदयू के रिश्तो में दरार साफ तौर पर नजर आने लगी है।

इस मामले में बिहार के विरोधी दल राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेज प्रताप यादव ने भी अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की है। उन्होंने राजद की तरफ से कहा है कि बिहार में शुरू से ही इनका सफाया हो रहा है। यही कारण है कि इस बार विधानसभा में इनकी पार्टी आधी सीटों पर सिमट के रह गई। राजद अध्यक्ष और पिता लालू प्रसाद यादव से रांची में मिलने पहुंचे पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव ने जब नालंदा में एंट्री ली। तो राजद कार्यकर्ताओं ने बिहार शरीफ के अंबेडकर चौक पर उनका जोरदार स्वागत किया है।

इस मौके पर राजद नेता ने अरुणाचल प्रदेश में हुए सियासी घटनाक्रम पर अपनी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा है कि बहुत ही जल्द जदयू का पूरी तरह से सफाया होने वाला है। कहा जा सकता है कि जदयू के पतन की शुरुआत अरुणाचल प्रदेश से हो चुकी है। तेज प्रताप यादव ने आगे कहा कि जनता दल यूनाइटेड पूरी तरह से खंडित होकर टूट चुका है। नीतीश कुमार ने जो फैसला लिया है बहुत गलत फैसला लिया है। उन्होंने खुद अपनी पीठ में छु’रा मा’रने का काम किया है।

गौरतलब है कि अरुणाचल प्रदेश में जदयू के 6 विधायकों ने ऐसे वक्त में पार्टी छोड़ी है। जब बिहार में राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक होने वाली थी और इसमें उन सभी नेताओं को भी आमंत्रित किया गया था। लेकिन भाजपा ने इन नेताओं को अपने पाले में ले लिया है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *