कोरोना वैक्सीन पर इजराइल ने दी बड़ी खुशखबरी, प्रभावी टीका बना..

August 7, 2020 by No Comments

दुनियाभर में फैले जा’नले’वा कोरोना वायरस की कारगर वै’क्सी’न बनाने में कई देशों के वैज्ञानिक जुटे हुए हैं। अभी तक इस रेस में सबसे आगे ब्रिटेन, अमेरिका और चीन को माना जा रहा हैं। इन देशो की वै’क्सी’न ट्रा’यल के तीसरे यानी अंतिम चरण में चल रही हैं। रूस ने तो वैक्सीन के क्लि’निक’ल ट्रा’यल यानी मानव परीक्षण में 100 फीसदी सफल होने का दावा भी कर दिया है।

इस मामले में कहना है कि Gam-Covid-Vac Lyo नाम की उसकी वैक्सीन इंसानी शरीर में वायरस के खिलाफ इ’म्युनि’टी वि’क’सित करने में सफल रही है। इस बीच इजराइल ने भी को’रो’ना के खिलाफ एक प्रभावी वै’क्सी’न बना लेने का दावा किया है। उसका कहना है कि वै’क्सी’न बनकर तैयार हो गई है, अब बस इसका ह्यूमन ट्रायल होना बाकी है जोकि जल्द ही शुरू हो जाएगा।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इजराइल के रक्षा और प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक बयान जारी करके कहा है कि कोरोना की प्रभावी और शानदार वैक्सीन बन गई है। इसे इजराइल इंस्टीट्यूट ऑफ बॉयोलॉजिकल रिसर्च ने बनाया है। प्रोफेसर शैमुअल शपिरा का कहना है कि जल्द ही इस वैक्सीन का इंसानों पर ट्रा’यल शुरू किया जाएगा। इसके लिए पहले सरकार ने अनुमति ली जाएगी।

उन्होंने कहा कि फिलहाल तो हमें एक कारगर वैक्सीन मिल गई है, लेकिन उन्होंने ये नहीं बताया कि यह बाजार में कब तक आ जाएगी और इसका इस्तेमाल शुरू हो सकेगा। इससे पहले मई महीने में भी इजराइल ने ये दावा किया था कि इंस्टीट्यूट ऑफ बॉ’योलॉजि’कल रिसर्च ने कोरोना की वैक्सीन बना ली है। उन्होंने कहा था कि बा’योलॉजि’कल इंस्टीट्यूट को कोरोना के खिलाफ एं’टीबॉ’डी तैयार करने में बड़ी सफलता मिली है।

उन्होंने दावा किया था कि यह एं’टीबॉ’डी मो’नो’नल तरीके से वा’यर’स पर ह’मला करती है और बीमा’र लोगों के शरीर के अंदर ही कोरो’ना को मा’र देती है। क्या रूस सच में अक्तूबर में टी’का’करण अभियान चलाएगा? इस सवाल को लेकर दुनियाभर के वैज्ञानिक चिं’तित हैं और वै’क्सी’न की सुरक्षा और प्र’भावशी’लता पर सवाल उठा रहे हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *