भा’वुक हुए इरफान पठान ने कहा- सोसाइटी में मु’सलमा’नों को घर न देना..

June 10, 2020 by No Comments

इन दिनों क्रिकेट जगत में न’स्लवा’द शब्द काफी सुर्खियों में बना हुआ है। दरअसल वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान डेरेन सैमी ने हाल ही में अपने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर किया था। उन्होंने बताया कि जब वह इंडियन प्रीमियर लीग में सनराइजर की टीम से खेलते थे तब उनके टीम के साथी खिलाड़ी उन्हें का’लू कहते थे। उनकी इस बात का समर्थन भारत के पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान ने भी किया था।

इस बारे में बातचीत करते हुए इरफान पठान ने कहा कि मैं साल 2014 में वहां सैनी के साथ था मुझे लगता है कि वास्तव में ऐसा हुआ होगा इस मुद्दे पर बात हुई होगी। इसलिए मुझे ऐसी बातों की जानकारी नहीं है, क्योंकि बड़े पैमाने पर चर्चा नहीं की गई होगी, लेकिन साथ ही, हमें अपने लोगों को शिक्षित करने की आवश्यकता है, क्योंकि मैंने घरेलू क्रिकेट में ऐसी टिप्पणियां करते हुए देखा है.”

इसी बीच भारत के पूर्व ऑलराउंडर खिलाड़ी इरफान पठान ने सोशल मीडिया साइट पर एक ट्वीट किया है। जिसमें उन्होंने लिखा है कि न;स्ल;वाद सिर्फ त्व’चा के रं’ग तक सीमित नहीं है , उनका मानना है कि घर खरीदने की अनुमति भी इसलिए नहीं मिलती है क्योंकि आप किसी अन्य ध’र्म पर विश्वास करते हैं।

इरफान पठान ने बताया कि जब वह शुरुआत में क्रिकेट दुनिया में आए थे तो वह अपनी शानदार स्विंग गेंदबाजी के लिए पहचाने जाते थे। हालांकि बीते समय के साथ इरफान पठान की स्विंग और गति दोनों खो गई और वह ख’रा’ब प्र’दर्श’न के चलते टीम इंडिया से ड्रॉ’प कर दिए गए उनकी हालत इतनी खरा’ब हो गई थी कि आईपीएल फ्रेंचाइजी भी उन्हें नहीं खरीद रही थी।

भारतीय टीम के पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान ने अपने अधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए लिखा, “न’स्ल’वाद’ त्वचा के रंग तक ही सीमित नहीं है। स’मा’ज में घर खरीदने की अनुमति सिर्फ इसलिए नहीं दी जाती है, क्योंकि तुम एक अलग ध’र्म पर विश्वास करते हो, ये भी एक न’स्लवा’द का हिस्सा है.”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *