इरफ़ान पठान ने कही बड़ी बात,’फ़िल्मों में काम करने के लिए इस्लाम से समझौता कर लूँ?, ये नहीं हो सकता…’

November 7, 2019 by No Comments

हमारे देश में क्रिकेटर और फ़िल्मों का बहुत गहरा रिश्ता रहा है। अधिकतर क्रिकेटरों ने फ़िल्मों की एक्ट्रेस से शादी की है। और यह सिलसिला कोई आज से नहीं चल रहा, बल्कि बहुत पहले से ऐसा होता रहा है। क्रिकेटर नवाब मंसूर अली खान पटौदी ने फ़िल्म एक्ट्रेस शर्मिला टैगोर से शादी की, तो उनके बेटे सैफ़ अली ख़ान ने पहले फ़िल्म एक्ट्रेस अमृता सिंह और फिर अभिनेत्री करीना कपूर से शादी की। और अब इसका हालिया उदाहरण हैं टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली और फ़िल्मों की जानी मानी अभिनेत्री अनुष्का शर्मा।

ये ही नहीं बल्कि कई क्रिकेटर ऐसे भी हैं, जिन्होंने क्रिकेट के मैदान के साथ-साथ फ़िल्मों में भी किस्मत आज़माने की कोशिश की। हालांकि, कोई भी फ़िल्मों में सफलता प्राप्त नहीं कर सका। फिर चाहें वह स्टार क्रिकेटर सुनील गावस्कर हों, जिन्होंने एक मराठी फ़िल्म में काम किया या फिर बल्लेबाज़ी के धुरंधर संदीप पाटिल और विकेटकीपर सैयद किरमानी हों। यहां तक कि वर्ल्ड कप विजेता कपिल देव ने भी ‘इक़बाल’ और ‘मुझसे शादी करोगी’ फ़िल्मों में विशेष भूमिका निभाई थी।

साथ ही साथ नवजोत सिंह सिद्धू और अजय जडेजा भी फ़िल्मों का रुख़ कर चुके हैं। और अभी हाल के दिनों की बात करें तो पूर्व भारतीय क्रिकेटर शांताकुमारन श्रीसंत दक्षिण कि फ़िल्म में काम कर चुके हैं। और अब क्रिकेट जगत का एक और नाम फ़िल्मी दुनिया से जुड़ने जा रहा है। और वह नाम है क्रिकेटर इरफ़ान पठान का, जो बहुत जल्द एक दक्षिण की फ़िल्म में काम करते नज़र आने वाले हैं। बता दें कि इस फ़िल्म में मुख्य भूमिका में साउथ के स्टार विक्रम हैं और इरफ़ान पठान इसमें एक इंस्पेक्टर का रोल निभाने जा रहे हैं।

ऐसे तो इरफ़ान क्रिकेट मैचों के कमेंटेटर की भूमिका में बहुत सफलता अर्जित कर रहे हैं। लेकिन, अब फैंस इरफ़ान को फ़िल्मों में देखने को बेताब हैं। और जल्द से जल्द बड़े पर्दे पर इरफ़ान पठान के अभिनय के जौहर देखना चाहते हैं। इरफ़ान पठान ने फ़िल्मों में काम करना तो स्वीकार कर लिया है, लेकिन उन्होंने फ़िल्म के निर्देशक विजय को स्पष्ट रूप से कह दिया है कि, वह फ़िल्मों में काम करने के बावजूद अपने मज़हब के साथ कोई समझौता नहीं करेंगे।

इरफ़ान ने फ़िल्म के निर्देशक को बता दिया है कि वह ना तो फ़िल्मों में शर्ट उतारेंगे और ना ही हिरोइन के साथ गाना गाएंगे। इरफ़ान का कहना है कि मैं मानता हूं कि फ़िल्मों में काम करना बुरी बात नहीं है। लेकिन कुछ चीज़ें ऐसी हैं, जिनमें मैं अपने मज़हब के हिसाब से चलता हूं। ग़ौरतलब है कि अभी हाल में ‘दंगल’ ‘सीक्रेट सुपरस्टार’ और ‘स्काई इज़ पिंक’ जैसी फ़िल्मों में अपने अभिनय का लोहा मनवा चुकी अभिनेत्री ज़ायरा वसीम ने भी अपने मज़हब का हवाला देते हुए फिल्म इंडस्ट्री से अपना नाता तोड़ लिया था।