इस राज्य में गिर सकती है सरकार, साक बचाने में जुटी..

July 12, 2020 by No Comments

मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार गि’रने के बाद अब एक और राज्य में भी सरकार गि’रने का सं’कट मं’डरा रहा है। यह राज्य कांग्रेस शासित राजस्थान है खबर के मुताबिक जयपुर में तेजी से बदल रहे घटनाक्रम ने कांग्रेस हाईकमान को फिर से चिं’ता में डाल दिया है।

दरअसल राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के बीच म’तभे’द ग’हरा रहा है। हालांकि एक वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने यह बात से इंकार कर दिया है कि राजस्थान सरकार को किसी भी तरह का कोई खतरा है। लेकिन हालात देखते हुए कई नेता मध्यप्रदेश में ज्योतिरादित्य सिंधिया के भाजपा में शामिल होने और कमलनाथ सरकार के गि’रने के घटनाक्रम को याद कर रहे हैं।

इस मामले में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं का कहना है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के बीच अहं का ट’करा’व हो रहा है और दोनों नेताओं में एक दूसरे के प्रति गहरा अविश्वास है। पूर्व केन्द्रीय मंत्री और एआईसीसी के महासचिव रहे एक नेता का तो ये भी कहना है कि ‘इन हालात में किसी भी चीज की कोई गारंटी नहीं है।’

इस मामले में पार्टी नेताओं ने इशारा किया है कि राजस्थान की राजनीति में चल रहे कलह कांग्रेस के लिए बड़ी स’म’स्या पैदा कर सकते हैं। जिसमें पार्टी के युवा नेताओं में अपने भविष्य को लेकर चिं’ता बढ़ गई है। पार्टी अभी भी नेतृत्व के सवाल को सुलझाने का प्रयास कर रही है।

दरअसल सचिन पायलट और अशोक गहलोत में त’नात’नी की शुरुआत तभी हो गई थी, जब कांग्रेस पार्टी दिसंबर 2018 में राजस्थान में सत्ता में आई थी। पार्टी द्वारा विधानसभा चुनाव के लिए नेता के चुनाव से इसकी शुरुआत हुई थी और जब कांग्रेस ने जीत के बाद तीसरी बार अशोक गहलोत को सीएम बनाया तो यह दरार और ज्यादा बढ़ गई थी। ये आशंका जताई जा रही है कि सचिन पायलट भी ज्योतिरादित्य सिंधिया की राह पर चलकर पार्टी छोड़ने का फैसला ले सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *