दुबई में इ’स्ला’म के खि’लाफ वि’वादि’त टि’प्पणी करने इस शख्स को पड़ा महंगा, गि’र’फ्ता’री के ड’र से…

April 10, 2020 by No Comments

दुनियभर में फैले को’रो’ना सं’क्रम’ण से भी ज्यादा ख’तर’नाक इस वक़्त इस बी’मा’री को लेकर फै’ला’ई जाने वाली ग’ल’त और झू’ठी खबरें हैं। जोकि सोशल मीडिया पर वा’य’रल हो रही है। खबर सामने आई कि कोरोना वा’यर’स सं’क्रम’ण को लेकर फेसबुक पर एक पोस्ट के जवाब में इ’स्ला’म का कथित रूप से अपमान करने को लेकर संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में एक प्रवासी भारतीय को उसकी कंपनी से ब’र्खा’स्त कर दिया गया है।

इस दौरान अपनी गिर’फ्ता’री होते देख राकेश बी कित्तूरम ने अपनी टि’प्पणी के लिए माफी मांगते हुए कहा कि वह सभी ध’र्मों का सम्मान करते हैं।
गल्फ न्यूज़ की खबर के मुताबिक दुबई स्थित एमिराल सर्विसेज में टीम लीडर के तौर पर काम करने वाले राकेश के खिलाफ सोशल मीडिया बहुत पर लोगों ने काफी आ’प’त्ति जताई थी।

जिसके बाद उन्हें उनके पद से ब’र्खा’स्त कर दिया गया है। इस संदर्भ में एमरिल सर्विसेस के मुख्य कार्यकारी अधिकारी स्टुअर्ट हैरिसन ने कहा, ‘‘कित्तूरमठ को त’त्का’ल प्र’भा’व से नौकरी से निकाल दिया गया है। उसे दुबई पु’लि’स को सौंपा जाएगा। हमारी नी’ति न’फ’रत फै’ला’ने वाले इस प्रकार के अ’परा’धों को कतई ब’र्दा’श्त नहीं करने की है।’’

खबर के अनुसार, हैरिसन ने कहा कि वे यह पता लगाने की को’शिश कर रहे हैं कि कित्तूरमठ अब भी यूएई में है या नहीं और यदि वह देश में है तो उसे पुलिस को सौंपा जाएगा। दुबई पुलिस द्वारा आसन्न गि’रफ्ता’री का सामना करते हुए, कर्नाटक के व्यक्ति ने एक सार्वजनिक माफी जारी करते हुए कहा, “यह मुझसे एक ग’ल’ती थी और मैं सभी ध’र्मों का सम्मान करता हूं और मैं किसी भी ध’र्म के बु’रे वि’चा’रों के लिए माफी नहीं मांगता।”

अपने वा’य’रल फेसबुक पोस्ट में कर्नाटक के व्य’क्ति ने मु’स’लमा’नों के लिए अ’पमा’नजन’क शब्द का इस्तेमाल किया था और न’मा’ज़ का म’ज़ाक उड़ाया था। इससे पहले भी इस सप्ताह की शुरुआत में अबु धाबी के निवासी मितेश उदेशी को फेसबुक पेज पर इ’स्ला’म का कथित रूप से मजाक उ’ड़ा’ने वाला एक कार्टून पोस्ट करने को लेकर ब’र्खा’स्त किया गया था।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *