दिल्ली के उत्तम नगर में बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने जमकर ब,वा,ल मचाया, अचानक बजरंग दल के कार्यकर्ता सड़क पर उ,तर गए और ध,रने पर बैठ गए,जिससे आवागमन बा,धित रहा, जय श्री राम- जय श्री राम के नारे के बीच उत्तम नगर थाने के दो पुलिसकर्मी की सस्पेंड करने की मांग करने लगे, बजरंग दल का आ,रोप है पुलिस ने उनके कार्यकर्ताओं को थाने में थ,प्पड़ लगाया।

इस बीच मौके पर बजरंग दल दिल्ली प्रांत के संयोजक भारत बत्रा पहुंचे और उन्होंने कार्यकर्ता को थ,प्पड़ मारे जाने का विरोध करते हुए बीच सड़क पर ध,रने पर बैठ गए, इसके बाद एक घंटे तक उत्तम नगर इलाका पूरी तरह जाम से परेशान हो उठा शो,र,गुल होने के बाद थाना प्रभारी राम किशाेर को मौके पर पहुंचना पड़ा,इसके बाद थाने में बजरंग दल के कार्यकर्ताओं के साथ बैठक हुई।

इस दौरान बजरंग दल के कार्यकर्ताओं के शिकायत पर पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर का आश्चासन दिया लेकिन बजरंग दल के कार्यकर्ता पुलिसकर्मियों को स,स्पेंड करने पर अड़े रहे,पुलिस की तरफ से दावा किया गया कि बजरंग दल कार्यकर्ताओं से ब,द,स,लूकी के आरोप में उत्तम नगर थाना के एक सब इंस्पेक्टर और हेड कांस्टेबल को निलंबित कर दिया गया, स्थानीय लोगों का कहना था कि बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने मेन नजफगढ़ रोड पर यातायात को करीब तीन घंटे तक बा,धित रखा।

पुलिस की ओर से इस पूरे मामले की जांच सही तरीके से करने के आश्वासन के बाद कार्यकर्ताओं ने इस आश्वासन के बाद यातायात को बहाल होने दिया ब,वा,ल को लेकर प्रांत संयोजक भारत बत्रा ने बताया कि बजरंग दल के कार्यकर्ता बृहस्पतिवार को कथित लव जिहाद से जुड़ा एक मामला लेकर उत्तम नगर थाना पहुंचे थे, इस मामले में एक किशोरी पर एक मुस्लिम युवक जबरन शादी का द,बा,व डाल रहा था, किशोरी परेशान थी, किशोरी के  परिजनों को जब यह बात पता चली तो उन्होंने बजरंग दल के कार्यकर्ता से सहयोग मांगा।

कार्यकर्ता जब किशोरी को लेकर थाना पहुंचा तब पुलिसकर्मी ने उनकी बात सुनने के बजाय रौ,ब झा,ड़ना शुरू कर दिया,जब कार्यकर्ता ने विरोध तो वे ब,दस,लूकी करने लगे, बार बार अनुरोध के बावजूद पुलिसकर्मियों का रवै,या उ,ग्र होता रहा, यहां तक कि पुलिसकर्मियों ने कार्यकर्ता पर हा,थ तक उ,ठा दिया, जब यह बात बजरंग दल के कार्यकर्ताओं तक पहुंची तब सभी लोग थाना पहुंचे, इसके बाद भी पुलिस हमारे पक्ष पर ध्यान नहीं दे रही थी, अंत में हमलोगों को यातायात बाधित कर रोष जताना पड़ा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *