गोरखपुर में हो सकता ऑक्सफोर्ड की कोरोना वैक्सीन का ट्रॉयल! ICMR ने..

July 23, 2020 by No Comments

ब्रिटेन के ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में बनी वैक्सीन का ट्रायल रीजनल मेडिकल रिसर्च सेंटर द्वारा किया जा सकता है। बताया जा रहा है कि इस ट्रायल में वह गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज को भी शामिल कर सकता है।

खबर के मुताबिक को’रोनावा’यरस सं’क्रम’ण से निपटने के लिए बनाई जा रही वैक्सीन को आरएमआरसी की देखरेख में सीरम इंस्टीट्यूट की टीम बीआरडी और आरएमआरसी में लैब की सुविधाओं को देखेगी। उम्मीद जताई जा रही है कि एक महीने के अंदर प्रक्रिया कर ट्रॉयल के लिए वैक्सीन मिल जाएगी।

गौरतलब है कि को’रोना’वाय’रस को लेकर पूरी दुनिया में दवा और वैक्सीन पर ट्रायल चल रहे हैं। भारत बायोटेक एम्स और आईसीएमआर भी देश के 12 सेंटरों पर वै’क्सीन के ट्रा’यल में जुटा हुआ है। बताया जाता है कि इन 12 सेंटरों में गोरखपुर का भी एक सेंटर शामिल है हालांकि अब तक गोरखपुर के सेंटर को भारत बायोटेक ने वैक्सीन उपलब्ध नहीं करवाए हैं।

इस बीच अब एक उम्मीद की किरण ऑक्सफोर्ड द्वारा विकसित वैक्सीन पर टिक गई है। इस वै’क्सीन के तीसरे चरण का ट्रॉयल शुरू होना है। यह ट्रॉयल देश में भी होगा। आरएमआरसी और बीआरडी मिलकर ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की ओर से बनाई गई वै’क्सीन पर ट्रॉ’यल कर सकते हैं। इसका प्रस्ताव आरएमआरसी की तरफ से आईसीएमआर को दिया गया है। इसकी पुष्टि आरएमआरसी के निदेशक डॉ. रजनीकांत ने की।

आपको बता दें कि आरएमआरसी के निदेशक डॉ रजनीकांत ने बताया है कि ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन का ट्रायल अब तक सफल रहा है और इसके नतीजे भी बेहतर मिल रहे हैं। अब तक ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी ने वैक्सीन का ट्रायल ब्रिटेन में सैकड़ों लोगों पर किया है। जिनमें अच्छा इ’म्यून रि’स्पां’स देखा गया है हल्के फुल्के साइड इफेक्ट भी मिले हैं जो साधारण द’वा’ओं से ठीक हो गए हैं।

आईसीएमआर की नि’गरानी में ट्रॉयल होना है। इसे लेकर सीरम इंस्टीट्यूट से आईसीएमआर की वार्ता चल रही है। उम्मीद है कि आरएमआरसी के प्रस्ताव को मंजूरी मिलेगी। इसके बाद बीआरडी मेडिकल कॉलेज और आरएमआरसी ऑक्सफोर्ड यूनि‌वर्सिटी की वैक्सीन पर ट्रॉयल करेंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *