इस राज्य में सीट बंटवारे से नाराज कांग्रेस हो सकती है गठबंधन से बाहर, अकेले चुनाव लड़ने पर…

March 6, 2021 by No Comments

जल्द ही देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। जिसके लिए चुनाव आयोग ने तारीखों का ऐलान कर दिया है और इन राज्यों में आदर्श आचार संहिता भी लागू की जा चुकी है। जहां कुछ राज्यों में पुराने गठबंधन टूट गई है वहीं कई जगह नए गठजोड़ बनना चाहिए।

भारतीय जनता पार्टी पश्चिम बंगाल समेत सभी राज्यों में बहुमत की सरकार बनाने का दावा कर रही है। लेकिन केरल और पश्चिम बंगाल के लिए सत्ता हासिल करने के लिए भाजपा को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। तमिलनाडु विधानसभा चुनाव से ठीक पहले राज्य में डीएमके कांग्रेस गठबंधन में दरार देखने को मिल रही है।

बताया जा रहा है कि राज्य में दोनों पार्टियों द्वारा एक दूसरे से अलग किए जा सकते हैं। कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने बताया है कि अगर डीएमके पार्टी को इस घटना से ज्यादा सीट देने से मना कर देती है। तो उस राज्य में कांग्रेस अपने अकेले दम पर चुनाव लड़ने का फैसला ले सकती है।

इस तरह की मांग की है इस बात पर अड़ी हुई है कि कांग्रेस को सिर्फ 18 सीटें ही दे सकती है कि हमारे को लेकर खींचतान चल रही है। वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने कहा है कि अगर पार्टी को सम्मान नहीं दिया जाता है। तो पार्टी के पास दूसरे विकल्प भी हैं। जिनके बारे में देखा जा सकता है।

इसके साथ ही गठबंधन से अलग होने की तरफ इशारा करते हुए कांग्रेस नेता कहते हैं। पिछली बार हमें 40 सीटें दी गई थीं। हम इस बार अपनी सीटों के कम करने के परेशान करने वाली बात को देख रहे हैं। ऐसा नहीं चल सकता। कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता कहते हैं कि डीएमके गठबंधन में सही से बर्ताव नहीं किया जाना शर्मनाक है।

अगर कोई सम्मान से बर्ताव नहीं करता तो आखिर गठबंधन का मतलब ही क्या है?’बता दें कि 234 सदस्यों वाली तमिलनाडु विधानसभा के लिए एक फेज में 6 अप्रैल को चुनाव होंगे। नतीजे 2 मई को आएंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *