कांग्रेस ने किया अविश्वास प्रस्ताव लाने का ऐलान, गिर सकती है खट्टर सरकार अगर चौटाला ने…

February 26, 2021 by No Comments

बीते साल नवंबर के महीने से शुरू कोई कि’सान आं’दोलन के कारण हरियाणा सरकार को काफी मु’सीब’तों का सामना करना पड़ रहा है। दरअसल हरियाणा में हुए निकाय चुनाव में भी भारतीय जनता पार्टी को बड़ा झ’टका लगा है। इसी बीच भाजपा भाजपा की सरकार के गिर’ने के कयास लगाए जाते रहे हैं। हालांकि अब तक ऐसा कुछ नहीं हुआ है। लेकिन कांग्रेस पूरी कोशिश कर रही है कि राज्य में मनोहर लाल खट्टर की सरकार को गिराया जा सके।

इसी बीच खबर सामने आई है कि मोदी सरकार द्वारा लाए गए तीनों कृ’षि का’नूनों के खि’लाफ हरियाणा के कि’सान आं’दो’लन और भी तेज कर रहे हैं। किसानों का कहना है कि कानून वापसी और एमएसपी पर कानून बनाए जाने की मांग से पीछे नहीं ह’टेंगे। उन्हें इसके साथ कोई भी समझौता मंजूर नहीं है।

इसी बीच हरियाणा की राजनीति में कांग्रेस ने एक बड़ा दांव चल दिया है। बताया जा रहा है कि कांग्रेस ने विधानसभा में बजट सत्र के दौरान हरियाणा की खट्टर सरकार के खिलाफ अ’वि’श्वास प्रस्ताव लाने का फैसला कर लिया है। माना जा रहा है कि अगर हरियाणा में कांग्रेस अ’विश्वा’स प्रस्ताव लेकर आती है, तो इस प्रस्ताव को मंजूर करना या नहीं करना यह फैसला विधानसभा अध्यक्ष द्वारा किया जाएगा। लेकिन, अगर अविश्वास प्रस्ताव मंजूर होता है तो इसके बाद सबसे बड़ी समस्या जजपा के सामने होगी।

बताया जाता है कि ज्यादातर जाटों के समर्थन में सत्ता की कुर्सी हासिल करने वाले जननायक जनता पार्टी के अध्यक्ष दुष्यंत चौटाला को भी खुलकर सामने आने की जरूरत पड़ सकती है। उन्हें यह खुलकर कहना होगा कि अब उनके विधायक कि’सा’नों के समर्थन में वोट करेंगे या फिर किसानों के विरो’ध में वोट डालेंगे।

जिससे यह साफ हो जाएगा कि जजपा किसानों के साथ है या फिर भाजपा के साथ ही रहना मंजूर करती है। ऐसा माना जा रहा है कि ज्यादातर किसानों के वोट से ही जजपा के विधायक जीतकर विधानसभा पहुंचे थे और भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाई गई थी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *