चीन ने छुपाया बड़ा सच, इस महीने में ही शुरू हो गया था कोरोना सं’क्रम’ण..

June 9, 2020 by No Comments

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप लगातार चीन पर यह आ’रो’प लगाते रहे हैं कि को’रो’ना वा’यर’स को बुहान की एक लैब में बनाया गया और इस सं’क्र’मण के करने के बावजूद बाकी की देशों को इसकी गं’भीर’ता से चीन ने आगाह नहीं किया। इन आ’रो’पों में कितनी सच्चाई है।
अभी तक इस पर कुछ कहा नहीं जा सकता। लेकिन हावर्ड मेडिकल स्कूल एक रिसर्च में यह सामने आया है कि चीन में अगस्त के महीने में ही को’रो’ना संक्रमण फैलने के सबूत मिले हैं हालांकि चीन ने दुनिया को को’रो’ना सं’क्रम’ण की जानकारी 31 दिसंबर को दी थी। गौरतलब है कि को’रो’ना वायरस से अब तक दुनिया भर में 70 लाख से ज्यादा लोग सं’क्र’मित हो चुके हैं जबकि 4 लाख से ज्यादा लोग इस खत’र’नाक सं’क्रम’ण की वजह से अपनी जा’न ग’वा चुके हैं।

अमेरिका के अलावा दुनिया के अन्य देश भी चीन पर यह आ’रो’प लगा रहे हैं कि इस सं’क्र’मण को लेकर चीन सच नहीं बता रहा है और इससे जुड़े सबूत के बाद ही रहा है। हालांकि चीन ने इन आ’रोपों का खं’डन करते हुए कहा है कि उसने सबकुछ वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन और अन्य एजेंसियों के साथ साझा किया है।

बहरहाल हार्वर्ड मेडिकल स्कूल के एक रिसर्च में दावा किया गया है कि संभवत: चीन में वा’य’रस का दिसंबर से महीनों पहले ही शुरू हो चुका था। इसे रिसर्च की टीम ने कमर्शियल सैटेलाइट इमेज अरे के जरिए बुहान शहर की कुछ तस्वीरों पर रिसर्च की है जो कि साल 2019 अगस्त महीने की बताई जाती हैं। इन तस्वीरों में वुहान शहर के अस्पतालों के बाहर बड़ी संख्या में वाहन खड़े हुए नजर आ रहे हैं।

इससे पहले के महीने और इससे पिछले कुछ सालों में बुहान में इस तरह भी’ड़ सिर्फ सं’क्र’मण के चलते ही नजर आई है। ये भी संभव है कि काफी वक़्त तक चीन को खुद ही इसकी जानकारी नहीं थी। रिसर्च के मुताबिक अगस्त से ही वुहान के पांच बड़े अस्पतालों के बाहर आश्चर्यजनक तौर पर वाहनों की भीड़ थी। हालांकि ऐसा भी हो सकता है कि जो लोग अस्पताल पहुंचे उन्हें मौसम की वजह से खांसी-बुखार और डा’यरि’या के म’री’ज समझकर इलाज किया गया हो। को’रो’ना के लक्षण भी सामान्य हैं और डॉक्टर्स को इस बारे में पता ही नहीं चला होगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *