मुज़फ्फरनगर में एक बार फिर मुख्यमंत्री योगी अदित्यनाथ का बुलडोज़र गर,जा और इस बार 1 या 2 नही बल्कि 3 धार्मिक स्थलों को को गि,रा दिया गया,ज्ञात रहे की पानीपत खटीमा राष्ट्रीय राजमार्ग के विस्तार का कार्य चल रहा है जिसके चलते तितावी थाना क्षेत्र में तीन धार्मिक स्थल राजमार्ग के बीच आरहे थे जिसके लिये उपजिलाधिकारी सदर परमानंद झा ने पु,लिस ब,ल के साथ मौके पर पहुंच कर इन स्थलो को गि,र,वा दिया,कार्यवाही के दौरान यहां पर भारी पु,लि,स ब,ल तैनात रहा।

बता दें कि तितावी थाना क्षेत्र में राष्ट्रीय राजमार्ग निर्माण के बीच में रोड़ा बने 3 धार्मिक स्थलों में से एक खुशहाल पीर, एक तितावी था,ने में स्थित मंदिर ओर एक धौलरा गांव में स्थित मंदिर को प्रशासन द्वारा जे,सी,बी की मदद से ह,टवा दिया गया है, अब इन धार्मिक स्थलों के लिए प्रशासन द्वारा अलग जगह सुनिश्चित की गई है जहां पर इन दोनों मंदिर और मजार का निर्माण कराया जाएगा,जानकारी के मुताबिक राष्ट्रीय राजमार्ग में बाधा बने 6 धार्मिक स्थलों में से तीन को तो कल हटवा दिया गया है लेकिन अभी भी तीन ओर धार्मिक स्थल बचे है, जिनको प्रशासन द्वारा राजमार्ग से हटवाया जाएगा, जिसके बाद ही इस पानीपत खटीमा राष्ट्रीय राजमार्ग का काम आगे बढ़ सकेगा।

जिलाधिकारी सदर परमानंद झा ने बताया कि जनपद मुजफ्फरनगर के पानीपत खटीमा राष्ट्रीय राजमार्ग पर एक गांव है घोलारा और तितावी दोनों गांव में धार्मिक स्थल बने हुए थे, लोगों की आस्था का केंद्र था, यह स्ट्रक्चर 25 साल पुराना था और वहां के संबंधित वह प्रबंधक को इस बारे में पहले भी अवगत कराया गया था कि वह इन को पहले ही हटा ले इनके द्वारा कोई का,र्य,वाही नहीं की गई, जिस कारण यह निर्णय लिया गया, एक विशेष धार्मिक स्थल था खुशहाल पीर के नाम से जो जाना जाता है, जिसको हमने ह,टा,या दूसरा थाना परिसर में जो मंदिर बने हुए थे वो उसकी ज,द में आ रहा था, उसको भी हम लोगों ने हटाया है।

उन्होने बताया कि गांव धौलरा में भी एक मंदिर था उसकी दीवार भी हटाई गई है, उन्होंने बताया कि उनको 1 सप्ताह का समय दिया गया है जगह का चयन कर मंदिर से मूर्तियां का स्थानांतरण करा ले ताकि हम इसको गि,रा सके, पीर को उनकी व्यक्तिगत भूमि पर ही पीछे स्थानांतरित किया जा रहा है, मंदिर के लिए था,ना परिसर में ही एक भूमि उपलब्ध कराई गई है इसमें हम निर्माण करेंगे,धौलरा में भी कल ग्राम प्रधान को बुलाकर गौशाला के समीप उनकी जगह को चिन्हित कर लिया गया है,गांव परिणाम में भी एक धार्मिक स्थलों को चिन्हित किया गया है उसको भी एक हफ्ते का समय दिया गया है, 3 धार्मिक स्थलों ग्रामीणों ने स्वयं हटा लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *