केरल के चुनावी इतिहास में भाजपा ने पहली बार दो मु’स्लिम महिलाओं को दिया टिकट, की बड़ी घोषणा

November 24, 2020 by No Comments

भारतीय जनता पार्टी ने केरल के चुनावी इतिहास में पहली बार 2 मु’स्लिम महिलाओं को पार्टी की तरफ से स्थानीय निकाय चुनाव में उम्मीदवार बनाया है। खबर के मुताबिक पार्टी ने मल्लपुरम जिले में होने वाले निकाय चुनाव में इन महिलाओं को टिकट दिया है। भाजपा द्वारा उठाए गए इस कदम को रणनीतिक तौर पर काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है।

इंडियन यूनियन मु’स्लिम लीग के गढ़ और मु’स्लिम बहुल इलाके मल्लपुरम जिले में भारतीय जनता पार्टी द्वारा अप्रत्याशित रूप से मु’स्लि’म उम्मीदवारों को खड़ा किया जाना पार्टी कार्यकर्ताओं के लिए काफी उत्साह भरा है। बताया जा रहा है कि निकाय चुनाव में भाजपा की ओर से कई पुरुष मु’स्लिम उम्मीदवार खड़े हैं। लेकिन इस समुदाय की केवल दो महिलाएं मलप्पुरम से चुनाव ल’ड़ रही हैं।

खबर के मुताबिक, वंडूर की निवासी टी पी सुल्फात वंडूर ग्राम पंचायत के वार्ड संख्या छह से चुनावी मैदान में हैं। वहीँ चेम्मड की रहने वाली आएशा हुसैन, पोनमुडाम ग्राम पंचायत के वार्ड संख्या नौ से उम्मीदवार हैं। दोनों ने भारतीय जनता पार्टी की टिकट पर चुनाव लड़ने के अपने कारण बताए हैं। टी पी सुल्फात का कहना है कि वह केंद्र की भाजपा सरकार की ‘प्रगतिशील’ नीतियों से प्रभावित हैं।

इसके अलावा सुल्फात ने कहा, “ती’न त’ला’क पर प्र’तिबं’ध और महिलाओं के लिए शादी की उम्र 18 से बढ़ाकर 21 किए जाने से मैं प्रभावित हुई।” उन्होंने कहा, “यह मु’स्लि’म महिलाओं के कल्याण के लिए उठाए गए बड़े कदम हैं। यह करने का साहस केवल मोदी में है।”

उन्होंने कहा कि इसलिए उन्हें लगता है कि केंद्र सरकार द्वारा नीतियों में फेरबदल करने से मु’स्लि’म महिलाओं को बहुत सहायता मिलेगी। वहीँ आयशा हुसैन का कहना है कि उनके पति भारतीय जनता पार्टी के नेता है इसलिए वह भाजपा के टिकट पर चुनाव ल’ड़ रही हैं। उनके पति भाजपा की इकाई अ’ल्पसंख्य’क मोर्चा के सक्रिय सदस्य हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *