भाजपा के गढ़ में कांग्रेस ने लहराया परचम, 58 साल से इस सीट पर…

December 5, 2020 by No Comments

महाराष्ट्र विधान परिषद के चुनाव में एक बार फिर से भारतीय जनता पार्टी को बहुत बड़ा झटका लगा है। कांग्रेसी नेता अभिजीत वनजारी ने भाजपा के घर में ही पार्टी को मात देते हुए जीत हासिल की है खबर के मुताबिक अभिजीत वनजारी ने नागपुर से भाजपा के संदीप जोशी को 18,910 वोटों के अंतर से हरा दिया।

बताया जा रहा है कि महाराष्ट्र में हुए एमएलसी चुनावों में भारतीय जनता पार्टी का प्रदर्शन बहुत ही निराशाजनक रहा है और पार्टी ने यह बात खुद स्वीकार कर ली है। कि जितनी सीटों को जीतने की उन्होंने उम्मीद की थी। उसके मुकाबले प्रदर्शन बहुत ही खराब रहा है।
दरअसल, कांग्रेस उम्मीदवार की इस जीत को बीजेपी के लिए बड़ा झटका माना जा रहा, क्योंकि पिछले 58 वर्षों से इस सीट पर भाजपा लगातार जीत हासिल कर रही थी और इसे आरएसएस का गढ़ माना जाता है। 

आपको बता दें कि केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के पिता गंगाधर फडणवीस इस सीट से जीत चुके हैं। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी 25 साल तक इस सीट का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। बताया जा रहा है कि वनराज ने अपने प्रतिद्वंद्वी जोशी को हराकर जीत हासिल की।  उन्हें कुल 61 हजार 701 मत मिले, जबकि संदीप जोशी की झोली में 42 हजार 791 वोट ही गए।

गुरुवार देर रात चौथे राउंड की गिनती के खत्म होने पर अभिजीत वनजारी 12 हजार 707 वोटों से आगे थे। उस वक्त ही उनके समर्थकों ने जश्न मनाना शुरू कर दिया था। नागपुर में मिली इस हार को भाजपा की अब तक सबसे बुरी हार के तौर पर देखा जा रहा है। गौरतलब कि एक साल के अंदर यह भाजपा को दूसरा बड़ा झटका है। महाराष्ट्र विधान परिषद की 6 सीटों के इस चुनाव में भाजपा सिर्फ एक सीट पर जीत हासिल कर सकी। बाकी सीटों पर शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के महाविकास आघाड़ी गठबंधन ने जीत दर्ज की।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *