दोस्तों आज हम आप को एक ऐसी लड़की की कहानी बताने जा रहे हैं जिसका नाम निशा था,निशा के माँ बाप एक साथ में रहते थे लेकिन कुछ दिनों के बाद निशा के माँ बाप में लड़ाई होने लगी, और फिर एक दिन दोनों का तलाक हो गया.तलाक के बाद निशा की माँ निशा को लेकर दुसरे शहर में चली गई और अपनी बेटी के साथ में रहने लगी.

माँ बेटी एक साथ में रहती थीं,बेटी अभी पढ़ाई कर रही थी.लेकिन उस ने कालेज में पहुँचने के बाद पढ़ाई छोड़ दी.क्योंकि घर के खर्च नहीं चल रहे थे,इसी दौरान उस ने एक जगह पर नोकरी कर ली.माँ इस बात से खुश भी हो गई, कि बेटी पैसे कमाने लगी है, लेकिन दूसरी तरफ माँ परेशान भी थी कि बेटी देर रात घर आती है.

इसी परेशानी को लेकर माँ ने अपने घर में कैमरा लगवा दिया ताकि वह देखे कि बेटी कब आती जाती है, इस बात पर बेटी बहुत गु’स्सा हुई कि वह अपनी बेटी पर विश्वास नहीं करती है,फिर निशा घर से भाग गई,माँ परेशान हो गई,कि बेटी कहाँ चली गई है,लेकिन माँ ने इस बारे में किसी को नहीं बताया, इसी तरह जब कई दिन गुज़र गए तो एक दिन माँ

दरवाज़े पर खड़ी थी कि वह अचानक गिर जाती है और बेहोश हो जाती है.मोहल्ले के लोग उसे बेहोशी की हालत में उठा कर हॉस्पिटल ले जाते हैं.लोगों ने देखा कि माँ हॉस्पिटल में है.लेकिन बेटी कहीं नहीं.मोहल्ले के लोगों ने इस बारे में जानकारी पुलि’स को दे दी है. पुलिस निशा के घर पहुंची और कैमरे को देखने लगी.

पुलिस को उस कैमरे में मिला कि जिस दिन निशा घर से गायब हुई थी, उस दिन निशा जब घर से निकली थी तो एक नकाब पोश ने उस का पीछा किया था और उस ने निशा को अ’गवा कर लिया था.पुलिस ने उसे तलाश करना शुरू किया. कुछ मेहनत के बाद उसे गाडी का मालिक मिल गया.और इस तरह उस नकाब पोश को भी हि’रासत में ले लिया गया.यह लोग लड़कियों को अगवा करके उन से धं’धा करवाते थे.दोस्तों माँ बाप कभी किसी के लिए गल’त नहीं सोचते हैं, इस माँ ने कैमरा लगवाया था तो अपनी बेटी की भलाई के लिए ही लगवाया था. और उसी कैमरे की वजह से उसे नई जिंदगी मिल गई.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *