असद ने कही दो टुक बात, अगर 26 जनवरी तक नाग रिकता का’नून वा’पस नहीं लिया तो हम

January 2, 2020 by No Comments

एआई एमआ ईएम के प्रमुख अस द्दुदीन औ’वे’सी लगा तार नाग रिकता संशो धन कानु’न के खि’ला’फ सर कार को घेर रहे हैं। वे स’सदं से लेकर सड़क तक सर कार के खि’ला’फ मोर्चा खोले हुए हैं। वो लगा तार सर कार को चुनौती दे रहे हैं। एक बार फिर उन्होंने सर कार को चेता वनी दी कि 26 जनवरी से पहले ये का’नून वापस नहीं लिया गया तो आ’क्रो’श पुरे देश में फैल जाएगा। औ’वेसी ने ये हुं’का’र बिहार के किशनगंज से भरी। उन्होंने बिहार के किश नगंज आकर सर कार वा नीतीश कुमार।पर जबर दस्त बरसे तथा खरी खोटी सुनाई और लोगों को जाग रूक किया। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि एनपी आर और एन सी आर दोनों एक ही है। इन दोनों को वो कभी लागु नहीं होने देंगे। उन्होंने आगे सर कार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि सर कार देश में फुट डालने के लिए इस कानू’न का लागु कर रही है। ‌उन्होने कहा कि बिहार के एक एक मु’स्लि’म ने आजादी की लड़ाई में हिस्सा लिया था।

और वर्तमान सर कार एन आर सी और सीएए को लागु करके हि’न्दू मु’स्लिम के बीच लड़ाई करना चाहती है। लेकिन हम सभी एक जुट होकर सर कार को ऐसा हर गिज नहीं करने देगें। उन्होंने प्रघा नमत्री पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि आखिर मो’दी को देश के मुसल मान से इतनी नफ़रत क्यों है। बाबा भीम राव अंबे डकर ने सांवि घांन लागु।

करते समय में साफ कर दिया था कि इस देश का कोई खास मज हब नहीं होगा। ये देश हर मज हब मानने वाले लोगों का होगा। लेकिन सर कार इस काले का’नून को लाकर भीम राव अंबेड कर वा डॉ राजेन्द्र प्रसाद का सपना तोड़ना चाहती है। लेकिन ऐसा हम लोग नहीं होने देंगे। ये मसला सिर्फ मुस लमान का नहीं है बल्कि ये मसला भारत में रह रहे 130 करोड़ लोगों का है।