अमेरिका के राष्ट्रपति हुए तुर्की के मुरीद, कहा- तुर्की वालों ने..

May 1, 2020 by No Comments

दुनियाभर के देश इस वक्त एकजुट होकर को’रो’ना वा’यर’स नाम की म’हामा’री के खि’ला’फ ल’ड़ा’ई लड़ रहे हैं। गौरतलब है कि चीन से पहले करो’ना वा’यरस सं’क्रम’ण की वजह से सबसे ज्या’दा प्रभावित हुई और अब और अमेरिका हुए हैं। अमेरिका में अब तक लाखों लोग को’रो’ना वा’यर’स की च’पे’ट में आ चुके हैं और हजारों की जा’ने जा चुकी हैं।

इसी बीच अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बड़ा फै’स’ला लिया है। कोरोना वायरस म’हामा’ री के खि’ला’फ अ’मे’रिका की ल’ड़ा’ई के लिए अब देश ने तुर्की का सहारा मांगा है। बताया जा रहा है कि तुर्की अब अमेरिका की मदद करने के लिए तैयार भी हो गया है। तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोगान ने अमेरिका में चल रही इस म’हामा’री के लिए मदद के तौर पर विमान से व्य’क्ति’गत सुरक्षा उ’पकर’ण की खेप भेजी है।

जानकारी के मुताबिक तुर्की ने सेना के एक मा’लवाह’क विमान के जरिए यह खे’प मंगलवार को अमेरिका रवाना की। एक शीर्ष अधिकारी का कहना है कि तुर्की ने 5,00,000 सर्जिकल मास्क, 4,000 पीपीई, 2,000 लीटर की’टा’णुना’शक, 1,500 चश्मे और 400 एन-95 मा’स्क भेजे हैं। तुर्की अब तक यही खे’प ब्रिटेन, इटली और स्पेन समेत 55 देशों को भी भेज चुका है।

गौरतलब है कि अमेरिका में को’रो’ना वा’य’रस सं’क्रिम’तों की टे’स्टिं’ग बड़े स्तर पर की जा रही है। वहीँ तुर्की द्वारा उठाया गया यह कदम प्र’त्य’क्ष तौर पर सं’क’ट के समय वैश्विक स्तर पर मदद करके अपने मानवीय छवि को सुधारने की दि’शा में उठाया गया कदम है। इस मामले में तुर्की में अमेरिका के राजदूत डेविड सैटरफिल्ड ने इसके लिए अंकारा का शुक्रिया अदा किया है।

उन्होंने कहा कि वह अमेरिकी सरकार की तरफ से नाटो सहयोगी तुर्की का शुक्रिया अदा करते हैं। उन्होंने बताया कि इस खे’प को संघीय आपात प्रबंधन एजेंसी हासिल करेगा। गौरतलब है कि बीते दिनों अमेरिका ने भारत से भी मदद मांगी थी जिसके बाद मोदी सरकार ने अमेरिका द्वारा मांगी गई दवाई को भेज दिया था।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *