महाराष्ट्र सियासी संक’ट: अजीत पवार के पास अब सिर्फ़ एक विधायक और वो भी…

November 24, 2019 by No Comments

मुंबई: महाराष्ट्र की सियासत में कल सुबह आया भूचाल कल शाम को कुछ हद तक शांत तो हो गया था लेकिन अभी इस पर फ़ैसला तो आना बाक़ी ही है. महाराष्ट्र की सियासत के एक पढ़ाव का फ़ैसला तभी हो सकता है जब विश्वास मत के लिए वोटिंग हो.एनसीपी-शिवसेना-कांग्रेस मांग कर रहे हैं कि ये जल्द हो और इसको लेकर उन्होंने सुप्रीम कोर्ट का दरवाज़ा भी खटखटाया है लेकिन दूसरी ओर भाजपा चाहती है कि उसे कुछ और वक़्त मिले. ज़ाहिर है सभी अपने दाँव ठीक से खेलने की कोशिश में हैं.

इस बीच ख़बर है कि अजीत पवार जोकि कल सुबह तक हीरो की तरह नज़र आ रहे थे, राजनीति के खेल में पिछड़ते दिख रहे हैं. शरद पवार ने उनको इस खेल में बुरी तरह पीछे कर दिया है. ये हम इसलिए कह रहे हैं क्यूँकि ख़बर है कि अजीत पवार के ख़ेमे में अब 4 एनसीपी विधायक नहीं बल्कि सिर्फ़ वो ख़ुद बचे हैं. बाक़ी सभी विधायक एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार के साथ आते दिख रहे हैं. एक तरह से कहा जाए कि आँधी की तरह आयी बग़ावत पहली बारिश भी नहीं देख सकी.

दूसरी ओर आज शरद पवार और अजीत पवार के बीच ट्विटर वार भी देखने को मिला. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने महाराष्ट्र के डिप्टी मुख्यमंत्री अजीत पवार के उस बयान पर प्रतिक्रिया दी है जिसमें उन्होंने कहा है कि वो एनसीपी हैं और हमेशा एनसीपी में रहेंगे..शरद पवार साहब हमारे नेता हैं और भाजपा-एनसीपी राज्य को पाँच साल के लिए स्थिर सरकार देंगे. शरद पवार ने इस पर तुरंत ही प्रतिक्रिया दी है. शरद पवार ने कहा कि भाजपा के साथ गठबंधन का सवाल ही नहीं उठता. उन्होंने कहा,”श्री अजीत पवार का बयान झूठा है और confusion क्रिएट करने के लिए है और ग़लत जानकारी लोगों तक पहुँचाने के लिए है.

इसके पहले अजीत पवार ने एक ट्वीट करके कहा था कि मैं एनसीपी में हूँ और हमेशा एनसीपी में रहूँगा. उन्होंने इस ट्वीट में कहा था कि भाजपा-एनसीपी की सरकार स्थिर रहेगी.इस बीच ये भी आ रही है कि एनसीपी के विधायक दिलीप बनकर जो कल अजीत पवार के साथ शपथ ग्रहण में थे उन्होंने बयान दिया है कि वो हमेशा पवार साहब (शरद पवार) के साथ हैं..मैं उनसे मिला हूँ, मेरे बच्चे की तबीअत ख़राब थी तो नासिक में था इसलिए कल मीटिंग में नहीं आ पाया..मैं एनसीपी के साथ हूँ भाजपा के नहीं.


वहीँ राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता नवाब मालिक ने बयान दिया कि हमारे साथ 50 विधायक हैं लेकिन सभी होटल में नहीं हैं, 4 विधायक जिनको भाजपा ने कहीं रखा हुआ है वो भी हमारे लगातार टच में हैं और हमें यक़ीन है कि वो भी वापिस आएँगे. इसके पहले एनसीपी के विधायकों को शरद पवार और शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने संबोधित किया.इसके पहले महाराष्ट्र सरकार के बहुम’त साबित करने की बात पर NCP- कांग्रेस- शिवसेना ने सुप्री’म को’र्ट का दरवाज़ा खटखटाया था, जिस पर सभी की नज़रें आज सुप्री’म को’र्ट के फ़ै’सले पर टिकी थी।

सुप्रीम को’र्ट ने इस मामले पर बड़ा फ़ैस’ला लेते हुए “सभी पक्षों को नो’टिस जारी किया है और केंद्र सरकार, देवेंद्र फडनवीस और अजित पवार को भी नोटिस जारी किया। कोर्ट ने राज्यपाल के आ’देश, CM देवेंद्र फडनवीस की तरफ़ से दिए गए सम’र्थन पत्र और उससे सम्बंधि’त सभी पत्रों को पे’श करने का आदे’श दिया है और सुनवाई कल तक के लिए टा’ल दी है। अब सुनावाई कल सुबह 10:30 से पुनः शुरू होगी।