इस मुसलमान ने गुजरात दं’गे में खोया था परिवार, अब इस पार्टी से चुनाव लड़ने का लिया फैसला..

February 9, 2021 by No Comments

गुजरात में साल 2002 के दौरान हुए दं’गे में अपने पूरे परिवार को खोने वाले एक शख्स द्वारा अब राज्य में होने वाले निकाय चुनाव में अपनी किस्मत आजमाई जाएगी। यह मुस्लिम शख्स हैं इम्तियाज खान पठान। जो कि गु’लबर्ग सोसाइटी से ताल्लुक रखते हैं। इम्तियाज खान ने गुजरात निकाय चुनाव में असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन ज्वाइन कर ली है।

जहां वह पहली बार अहमदाबाद के निकाय चुनाव ल’ड़ने जा रही है। इम्तियाज खान पठान का कहना है कि वह गुजरात में दं’गा मामले की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद गठित एसआईटी के सामने गवाही देने वाले अहम गवाह रह चुके हैं। अब उनके समेत कई और लोग भी ओवैसी की पार्टी में शामिल हो चुके हैं।

 

इस मामले में असदुद्दीन ओवैसी का कहना है कि, ‘हम लोगों के लिए एक और विकल्प के रूप में गु’जरात आए हैं। विशेष रूप से आ’दिवासी, मु’स्लिम, द’लित और ओबीसी लोगों के लिए।” उन्होंने कहा कि, हमारा मकसद सिर्फ चुनावों में सफलता हासिल करना नहीं है, बल्कि ग’रीबों और मु’सलमा’नों के संवैधानिक अधिकारों की रक्षा करना है। साथ ही उनकी आ’दिवासि’यों की भूमि रक्षा करना हमारा मकसद है।’ इस प्रकार ओवैसी ने मु’स्लि’मों, आ’दिवासि’यों और अन्य समुदायों को एकजुट होने का संदेश दिया।

गुजरात में बहुत ही जल्दी स्थानीय निकाय चुनाव होने वाले हैं। यहां पर 6 महानगर पालिकाओं के लिए मतदान होने वाला है। ऐसे में हर राजनीतिक दल द्वारा जोरों शोरों से चुनाव प्रचार शुरू कर दिया गया है। राज्य में सक्रिय प्रमुख राजनीतिक दलों के साथ-साथ अन्य राज्यों के राजनीतिक दलों की भी गुजरात में एंट्री हो चुकी है।

इस बार अगर मुस्लिम उम्मीदवारों पर गौर किया जाए तो कांग्रेस ने 25 मुस्लिम उम्मीदवार चुनावी दं’गल में उतार दिए हैं। वहीं असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुस्लिमीन अभी गुजरात में निकाय चुनाव ल’ड़ने जा रही है। इस पार्टी ने अपने 21 उम्मीदवार निकाय चुनाव के लिए तैयार कर लिए हैं। बताया जाता है कि सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी ने एक भी उम्मीदवार को इस चुनाव में नहीं उतारा है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *